close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

छावनी में बदला हुआ लाल किला, लगाई गईं पुलिस की 50 कंपनियां

स्वतंत्रता दिवस पर सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लाल किले और आइपास के इलाके को छावनी में बदल दिया गया है. यहां चप्पे चप्पे पर सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं.

छावनी में बदला हुआ लाल किला, लगाई गईं पुलिस की 50 कंपनियां
स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले को छावनी में तबदील किया गया (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : स्वतंत्रता दिवस पर सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लाल किले और आइपास के इलाके को छावनी में बदल दिया गया है. यहां चप्पे चप्पे पर सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं. नार्थ ज़िले की डीसीपी नूपुर प्रसाद ने बताया कि स्वतंत्रता दिवस पर सुरक्षा को ले कर पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. नार्थ जिले पुलिस की लगभग 50 कंपनियों को यहां तैनात किया गया है.

तीन स्तर की सुरक्षा के इंतजाम
दिल्ली पुलिस ने आतंकी खतरे पर जारी अलर्ट को ध्यान में रखते हुए लाल किले के आसपास तीन स्तर का सुरक्षा घेरा तैयार किया है. वहीं पूरी दिल्ली में जल, थल और वायु तीनो जगह से सुरक्षा के इंतजामों पर नजर रखी जाएगी. तीनो जगह से हमले को रोकने के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. दिल्ली पुलिस की ओर से जहां सुरक्षा को ध्यान में रख कर कई मार्गों पर ट्रैफिक का मार्ग बदल दिया गया है वहीं संवेदनशील जगहों पर विशेष सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं.

ये भी पढ़ें : स्वतंत्रता दिवस पर सुरक्षा के चलते रेलवे व मेट्रो ने बंद की ये सुविधाएं

प्रधानमंत्री की सुरक्षा के खास इंतजाम
लाल किले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा के लिए खास इंतजाम किए गए हैं. यहां नेशनल सिक्योरिटी गार्ड्स (एनएसजी) और इण्डियन एयरफोर्स के जवानों को भी तैनात किया गया है. सूत्रों के अनुसार लगभग 7 बजकर 15 मिनट पर पीएम लाल किला आ जायेगे. सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सिर्फ ऐसे वाहनों को लाल किले के आसपास आने की अनुमति दी गई है जिनमें पास लगे हों. जिन गाड़ियों को पास दिए गए हैं उनकी तगड़ी सुरक्षा जांच की गई है. यदि आप प्रधानमंत्री का भाषण सुनने के लिए लाल किले जा रहे हैं तो कोई सामान ले कर ना जाएं. नहीं तो आपको काफी मुश्किल हो सकती है. इस पूरे इलाके में विशेष तौर पर 250 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं जिनसे हर हरकत पर नजर रखी जा रही है. 14 अगस्त रात 8 बजे से दिल्ली के सभी बॉर्डर सील कर दिए जाएंगे. इसके अलावा करीब 170 काइट केचर्स तैनात किये जाएंगे कोई पतंग समारोह स्थल तक नहीं आप पाएंगे. पीएम के लाल किले रुट तक 1000 हजार कैमरे लगाए गए है. करीब 10 जवान जिसमे दिल्ली पुलिस सेना NSG, पैरामिलिट्री SPG तैनात रहेगी। इसके अलावा BSF, CISF ,ITBP, CRPF, Indian Army, मिलिर्टी इंजीनियरिंग, मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस भी लाल किले की अभेद सुरक्षा का हिस्सा रहेगें. लाल किले के आसपास की 300 छतों पर जवान तैनात रहेंगे. पहली बार DRDO से खास तौर पर एक कैमरा मंगवाया गया है. इस कैमरे का नाम मिसाइल डीडेक्टिव कैमरा है जिसकी कई किलोमीटर तक देखने की न केवल छमता है बल्कि ये लाल किले की तरफ किसी भी संदिग्ध गतिविधियों पर खासी नजर रखता है.