त्रिलोकपुरी में हिंदुओं ने किया मुहर्रम के जुलूस का नेतृत्व

दिवाली के वक्त साम्प्रदायिक हिंसा का दंश झेलने वाले पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी में मंगलवार को लोगों को साम्प्रदायिक सौहार्द का नया नजारा देखने को मिला जब हिन्दुओं ने इलाके में मोहर्रम के अवसर पर निकाले गए सभी जुलूसों का नेतृत्व किया।

नई दिल्ली : दिवाली के वक्त साम्प्रदायिक हिंसा का दंश झेलने वाले पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी में मंगलवार को लोगों को साम्प्रदायिक सौहार्द का नया नजारा देखने को मिला जब हिन्दुओं ने इलाके में मोहर्रम के अवसर पर निकाले गए सभी जुलूसों का नेतृत्व किया।

इलाके में छह जुलूस निकाले गए और सभी का नेतृत्व स्थानीय हिन्दुओं ने किया। हालांकि सभी जुलूस पुलिस द्वारा तय किए गए ‘सुरक्षित’ रास्तों से निकाले गए और सुरक्षा व्यवस्था सिर्फ जमीन पर ही नहीं बल्कि आसमान में भी चाक-चौबंद थी। इलाके में निगरानी के लिए ड्रोन भी तैनात किए गए थे।

पूर्वी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त अजय कुमार ने बताया, ‘हमने आयोजकों के साथ बैठक कर, संभावित सुरक्षित रास्ते चुने थे। भारी संख्या में (पुलिस बल की) तैनाती की गई थी, छतों पर भी कर्मी तैनात थे। पूरे इलाके की ड्रोन से निगरानी कर यह सुनिश्चित किया गया था कि किसी ने छत पर पत्थर या बोतलें जमा ना की हों। हमने मुहर्रम मार्ग की ओर जाने वाली गलियों और सड़कों की भी जांच की थी।’

जुलूस में भाग लेने वाले खाने-पीने की चीजें बांटते नजर आए लेकिन इसबार प्रतिबंध के कारण किसी के पास कोई हथियार नजर नहीं आया। मातम मनाने के लिए निकाले जाने वाले इस जुलूस में सामान्य तौर पर लोग खुद को ब्लेड, चेन या चाबुक से घायल करते हैं, सजा देते हैं लेकिन इस साल किसी के हाथ में यह चीजें नजर नहीं आयीं।

दिवाली की रात झगड़ा और उसके कारण साम्प्रदायिक हिंसा के बाद इलाके में सौहार्द कायम करने के लिहाज से 30 हिन्दू स्वयंसेवकों ने त्रिलोकपुरी के ब्लॉक-27 और 37 से निकाले गए मुहर्रम के छह जुलूसों का नेतृत्व किया।

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.