close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हिसार: सेना की जासूसी के आरोप में गिरफ्तार हुए थे 3 मजदूर, पूछताछ के बाद रिहा

पुलिस से क्लीन चिट मिलने के बाद सेना ने भी तीनों को छोड़ दिया. आपको बता दें कि गुरुवार को आर्मी कैंट में सेना के जवानों ने यूपी के मुजफ्फरनगर के रहने वाले मजदूर मेहताब को काबू कर लिया था. मेहताब उस वक्त आर्मी कैंट परिसर में वीडियो बना रहा था. जांच में पता चला कि मेहताब की बुआ पाकिस्तान में रहती है मेहताब के परिजन भी पहुंचे थे उन्होंने भी पुलिस के समक्ष यही बातें कहीं. 

हिसार: सेना की जासूसी के आरोप में गिरफ्तार हुए थे 3 मजदूर, पूछताछ के बाद रिहा
इन तीनों को पहले गिरफ्तार किया गया फिर रिहा कर दिया गया.

हिसार. हिसार के आर्मी कैंट एरिया में वीडियो इत्यादि बनाकर जासूसी करने के आरोप में काबू किए गए तीनों मजदूरों को कई घंटों की पूछताछ के बाद हरियाणा पुलिस ने छोड़ दिया है. हरियाणा पुलिस को जब तीनों मजदूरों के संबंध में किसी प्रकार की संदिग्ध गतिविधियों में संलिप्तता नहीं मिली, तो उन्होंने रपट दर्ज करके तीनों को सेना के हवाले कर दिया. 

पुलिस से क्लीन चिट मिलने के बाद सेना ने भी तीनों को छोड़ दिया. आपको बता दें कि गुरुवार को आर्मी कैंट में सेना के जवानों ने यूपी के मुजफ्फरनगर के रहने वाले मजदूर मेहताब को काबू कर लिया था. मेहताब उस वक्त आर्मी कैंट परिसर में वीडियो बना रहा था. जांच में पता चला कि मेहताब की बुआ पाकिस्तान में रहती है मेहताब के परिजन भी पहुंचे थे उन्होंने भी पुलिस के समक्ष यही बातें कहीं. 

ये भी पढ़ें: मुज़फ्फरनगर के युवक मिल्ट्री एरिया में थे वेल्डिंग मिस्त्री, सेना की डिटेल जुटाकर भेजते सीमापार

मेहताब ने पुलिस को यह भी बताया कि उसका कोई गलत इरादा नहीं था. मेहताब के साथ ही सेना ने शामली निवासी खालिद और मुजफ्फरनगर के शेरपुर के रहने वाले राहगीर को भी इसी आरोप में काबू किया था. 

लाइव टीवी देखें-:

आपको बता दें कि आर्मी कैंट एरिया में चल रहे भवन निर्माण कार्य में हरियाणा के एक ठेकेदार तीनों मजदूरों को लेकर आया था. इसी बीच उनकी गतिविधियों को संदिग्ध देखते हुए सेना के जवानों ने तीनों को काबू कर जांच शुरू की थी. शनिवार को तीनों के पक्ष में गांव की पंचायतें भी पहुंची थी. परिजनों और ग्रामीणों ने पुलिस के समक्ष तीनों की बेगुनाही के सबूत पेश किए.