हिसार और आस-पास के इलाके में हुई बारिश, किसानों को मिलेगा फायदा

पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के चलते हिसार सहित हरियाणा के कई इलाकों में बारिश हुई है, हालांकि यह बारिश किसानों के लिए फायदेमंद जरूर है. 

हिसार और आस-पास के इलाके में हुई बारिश, किसानों को मिलेगा फायदा
हिसार में हो रही सब्जी की खेती.

हिसार: पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के चलते हिसार सहित हरियाणा के कई इलाकों में बारिश हुई है, हालांकि यह बारिश किसानों के लिए फायदेमंद जरूर है. लेकिन मौसम विभाग का अनुमान है कि कल से दोबारा मौसम साफ हो जाएगा. बारिश के बाद हरियाणा के किसानों के चेहरे पर मुस्कान नजर आने लगी है. दरअसल, पिछले 2 दिनों से हिसार और इसके पास के इलाके में रूक—रूक कर बारिश हुई है. बारिश से तापमान में जहां गिरावट दर्ज की है, वहीं फसलों को फायदे का अनुमान जाहिर किया गया है. किसान रामनिवास, सोनू और सोथाराम ने बताया कि बारिश से गेहूं की फसल के साथ-साथ सब्जियों की खेती को फायदा होगा.

हालांकि उन्होंने कहा कि प्रदेश के कुछ एरिया में ओलावृष्टि भी हुई है, जो नुकसान दायक भी है. लेकिन अगर साधारण थोड़ी बारिश होती है, तो यह फसलों के लिए फायदेमंद है.वहीं हिसार के चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ मदनलाल खींचड़ ने का कहना है कि हरियाणा में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के चलते मौसम में बदलाव हुआ है.

पश्चिमी विक्षोभ अफ़ग़ानिस्तान, ईरान, ईराक़, पाकिस्तान होते हुए भारत पहुँचा है, जिस वजह से बारिश हुई है. उन्होंने बताया कि बारिश से तापमान में गिरावट जरूर दर्ज की गई है, लेकिन अब कल से मौसम वापिस खुश्क हो जाएगा. मौसम वैज्ञानिक डॉ मदन लाल खिचड़ ने किसानों को कुछ हिदायते भी दी है.

उन्होंने कहा​ कि बारिश से गेहूं की फ़सल और सरसों की फ़सल को भी फ़ायदा मिलेगा. लेकिन मंडी में पड़े धान को लेकर थोड़ी बहुत समस्या हो सकती है. वहीं धान के बाद गेंहू की बिजाई में भी थोड़ी देरी हो सकती है. उन्होंने बताया कि बारिश की आशंका को देखते हुए एचएयू ने पहले ही किसानों को सलाह दी थी कि गेहूं की बिजाई को कुछ समय के लिए रोक दें.

फिलहाल मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि कल से हिसार सहित आसपास के इलाके में मौसम वापिस खुश्क हो जाएगा. लेकिन तापमान में अब आने वाले दिनों में और भी गिरवाट दर्ज की जा सकती है.