close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गर्भवती पत्नी के पेट में मारे थे मुक्के, पति को तीन साल की सजा

पत्नी का गर्भपात कराने के आरोप में निचली अदालत ने पति को 19 दिन की कैद और 3.50 लाख रुपये पत्नी को देने की सजा सुनाई थी. 

गर्भवती पत्नी के पेट में मारे थे मुक्के, पति को तीन साल की सजा

नई दिल्ली: घटना 4 साल पहले 17 अप्रैल, 2013 की है. शालीमार पुलिस को देर रात एक एक्सीटेंड की खबर मिली. मौके पर पहुंची पुलिस ने पाया कि एक सेंट्रो कार एक पेड़ से टकराई हुई है. पुलिस ने कार से घायल पति-पत्नी को निकालकर अस्पताल पहुंचाया. लेकिन जब पुलिस घटना दर्ज करने के लिए घायल पत्नी का बयान लेने लगी तो कहानी कुछ और ही निकलकर आई. महिला ने बताया कि यह कोई महज दुर्घटना नहीं है बल्कि पति ने उसे मारने के मकसद से कार को जानबूझ कर पेड़ से टकराया है. पत्नी ने बताया कि पति के साथ उसका झगड़ा चल रहा है. वह मायके से उसे ला रहा था. किसी बात पर रास्ते में उनमें फिर झगड़ा हुआ. इस पर पति ने गर्भवती पत्नी के पेट में कई बार घूंसे मारे और उसे जान से मारने की बात कहते हुए कार को पहले ट्रक में टक्कर मारी और फिर पेड़ में घुसा दी. 

इलाज के दौरान डॉक्टरों ने बताया कि इस दुर्घटना में महिला का 8 महीने का गर्भ गिर गया. पुलिस ने महिला की शिकायत पर उसके पति के खिलाफ हत्या और दुर्घटना का मामला दर्ज कर लिया था. अगस्त, 2016 में निचली अदालत ने पति को 19 दिन की कैद और 3.50 लाख रुपये पत्नी को देने की सजा सुनाई थी. निचली अदालत के फैसले से नाखुश पुलिस ने हाईकोर्ट में अपील की. हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए पति की सजा को तीन साल कर दिया है.