जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 का हटना स्वागत योग्य: BSP सांसद अफजाल अंसारी

अफ़ज़ाल अंसारी ने कहा कि जब 1947 में जब जम्मू- कश्मीर के राजा ने कबाइलियों और पाकिस्तान के हमले से बचने के लिए भारत से मदद मांगी तो भारत ने सेना भेजना का फैसला किया, तब 50 वी पैराशूट बिर्गेड के बिर्गेडियर उस्मान के नेतृत्व में सबसे पहले कश्मीर में सेना ने मोर्चा संभाला और पाकिस्तान के दांत खट्टे किए. 

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 का हटना स्वागत योग्य: BSP सांसद अफजाल अंसारी
बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के सांसद अफ़ज़ाल अंसारी

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसला का बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के सांसद अफ़ज़ाल अंसारी ने स्वागत किया है. अफ़ज़ाल अंसारी ने कहा है कि अनुच्छेद 370 का ख़त्म होना, मेरे नाना बिर्गेडियर उस्मान और उनके साथियों की शहादत को सच्ची श्रद्धाजंलि है, जिन्होंने कश्मीर को बचाने के लिए अपनी जान को कुर्बान कर दिया था.

अफ़ज़ाल अंसारी ने कहा कि जब 1947 में जब जम्मू- कश्मीर के राजा ने कबाइलियों और पाकिस्तान के हमले से बचने के लिए भारत से मदद मांगी तो भारत ने सेना भेजना का फैसला किया, तब 50 वी पैराशूट बिर्गेड के बिर्गेडियर उस्मान के नेतृत्व में सबसे पहले कश्मीर में सेना ने मोर्चा संभाला और पाकिस्तान के दांत खट्टे किए. 3 जुलाई 1948 में इसी लड़ाई को लड़ते हुए और कश्मीर को बचाते हुए बिर्गेडियर उस्मान ने शहादत दी. इसलिए धारा 370 का हटना उनके लिए बड़ी श्रद्धाजंलि है.

अफ़ज़ाल अंसारी गाजीपुर से बसपा के सांसद है. उन्होंने कहा कि इस धारा को हटाने का सरकार का तरीका गलत है लेकिन अनुच्छेद 370 को हटाना सही है. सरकार को चाहिए कि दूसरे राज्यों से भी इस तरह की धाराएं हटाई जाई.

लाइव टीवी देखें-:

अफ़ज़ाल अंसारी ने कहा कि हमारा मुल्क एक है और सबको कही भी जाकर रहने, कारोबार करने या पढ़ने की आज़ादी होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कुछ लोग कश्मीर के मुद्दे पर भारत के  मुसलमानों को गलत नज़रिए दे देखते है, जो गलत है. भारत के मुसलमान कभी भी धारा 370 की हिमायत में नहीं रहे.

इससे पहले बसपा राज्यसभा में भी इस मामले पर सरकार का समर्थन कर चुकी है. बसपा अनुच्छेद 370 पर सरकार की हिमायत में खड़ी दिख रही है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.