Breaking News
  • कोरोना से मृत्यु दर 1% से कम करने का लक्ष्य: PM मोदी
  • आरोग्य सेतु ऐप के जरिए संक्रमित लोगों के करीब पहुंच सकते हैं: PM मोदी
  • 72 घंटे में संक्रमण की जानकारी से खतरा कम: PM मोदी
  • देश में फिलहाल हर रोज 7 लाख टेस्टिंग: PM मोदी

भीडभाड़ वाले करोल बाग के एक इलाके में वायु गुणवत्ता में आया सुधार : अध्ययन

करोल बाग को भीड़ मुक्त बनाने के लिए एनडीएमसी ने पायलट परियोजना चलाई थी.

भीडभाड़ वाले करोल बाग के एक इलाके में वायु गुणवत्ता में आया सुधार : अध्ययन
फाइल फोटो

नई दिल्लीः भीड़ भरे करोलबाग की कार मुक्त एक सड़क अजमल खां रोड के एक हिस्से में वायु गुणवत्ता में सुधार आया है. एक स्थानीय अध्ययन में यह बात सामने आई है. अध्ययन करने वाली संस्था ‘सेंटर फॉर साइंस एडं एन्वायरनमेंट’ (सीएसई) के शोध विभाग की कार्यकारी निदेशक अनुमिता रायचौधरी ने बताया कि अजमल खां रोड के 600 मीटर के एक खास हिस्से से मिले आंकड़ों की तुलना यातायात से भरे आर्य समाज रोड से मिले आंकड़ों से की गई. अजमल खां रोड का 600 मीटर हिस्सा हाल ही में, पैदल चलने वालों की सहूलियत के लिए कार मुक्त कर दिया गया था.

उन्होंने बताया कि इस हिस्से में पीएम 2.5 कणों में कमी देखी गई है. इतना ही नहीं, सड़क पर यातयात में भी सुधार आया है.

लोगों की प्रतिक्रिया से उत्साहित नयी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) की योजना है कि इस तरीके को दूसरे इलाकों में भी लागू किया जाए ताकि लोगों को सार्वजनिक परिवहन के इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित किया जा सके और बाजार को पैदल चलने वालों के लिए सुगम बनाया जा सके.

करोल बाग को भीड़ मुक्त बनाने के लिए एनडीएमसी ने पायलट परियोजना चलाई थी. एनडीएमसी आयुक्त वर्षा जोशी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि करोल बाग से मिली सकारात्मक प्रतिक्रिया के बाद अब ऐसी ही योजना कीर्तिनगर और कमला नगर बाजार में भी लागू किए जाने पर विचार किया जा रहा है.