दिल्‍ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 5 नए केस सामने आए: अरविंद केजरीवाल

दिल्‍ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के पांच नए मामले सामने आए हैं.

दिल्‍ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 5 नए केस सामने आए: अरविंद केजरीवाल

नई दिल्‍ली: दिल्‍ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के पांच नए मामले सामने आए हैं. इनमें से एक मरीज पिछले दिनों विदेश से लौटा था. इस तरह दिल्‍ली में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्‍या बढ़कर 35 हो गई है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ये जानकारी साझा करते हुए कहा कि भले ही लॉकडाउन की स्थिति हो लेकिन लेकिन आवश्यक सामनों की कमी नहीं होने दी जाएगी. इससे पहले कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर और जरूरी चीजों की किल्लत को देखते हुए बुधवार को फिर इस मसले पर दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल के दफ्तर में एक बैठक हुई. बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई आला अधिकारी मौजूद थे. बैठक में दिल्ली में मूलभूत सुविधाओं और जरूरी चीजों की उपलब्धता बनाए रखने की समीक्षा की गई.

बैठक के बाद मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि "राजधानी में किसी भी तरह से जरूरी चीजों की कमी नहीं होने दी जाएगी. मूलभूत जरूरतों को पूरा करना सरकार की जिम्मेदारी है. दूध, सब्जी, खाने की चीजें, दवाई जरूरी चीजें जरूरत पड़ने पर आपके घरों तक पहुंचाई जाएंगी."

केजरीवाल ने कहा, "दिल्ली सरकार, एलजी और दिल्ली पुलिस सभी ने मिलकर फैसला किया है कि हम एक यूनिट की तरह काम करेंगे. पीएम मोदी के मंगलवार के भाषण के बाद खरीदारी करने दुकानों पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी, ऐसे में लॉकडाउन का क्या मतलब रह गया. ऐसा करने से कोरोना से लड़ाई कमजोर होगी."

मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया है कि दिल्ली में जरूरी चीजों की कमी नहीं है, और किसी भी हाल में कमी नहीं होने दी जाएगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रशासन ने फैसला किया है कि दूध, दवाई, सब्जी बेचने वाले, मॉस्क और सैनिटाइजर बनाने वाले जैसे लोगों को तुरंत ई-पास मुहैया कराए जाएं. ये पास आज देर शाम तक मुहैया करा दिए जाएंगे. दिल्ली सरकार सुनिश्चित करेगी कि जरूरी चीजों की दुकानें खुलें और उनमें पर्याप्त मात्रा में सामान हों.

केजरीवाल ने यह भी कहा है कि "प्रधानमंत्री मोदी ने जो संपूर्ण लॉक डाउन का मंगलवार को फैसला किया है, व बेहद जरूरी है. सब की सेहत के लिए बेहद जरूरी है. लोग घरों में ही रहें."