33वें सूरजकुंड मेले का उद्घाटन,31 से ज्यादा देश कर रहे हैं भागीदारी

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पानीपत में चार एकड़ में मराठों की वीरता का इतिहास ‘लाईट एंड साउंड’ के माध्यम से दर्शाने के लिए विशेष स्मारक विकसित करने की घोषणा की.

33वें सूरजकुंड मेले का उद्घाटन,31 से ज्यादा देश कर रहे हैं भागीदारी
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने पानीपत की तीसरी लड़ाई के मराठा वीरों की याद में बनाए जा रहे युद्ध स्मारक के लिए तीन करोड़ रुपये देने की घोषणा की. (@CMOMaharashtra)

फरीदाबाद: 33वें अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड मेले का शुक्रवार को उद्घाटन किया गया और इस मौके पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने पानीपत की तीसरी लड़ाई के मराठा वीरों की याद में बनाए जा रहे युद्ध स्मारक के लिए तीन करोड़ रुपये देने की घोषणा की.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पानीपत में चार एकड़ में मराठों की वीरता का इतिहास ‘लाईट एंड साउंड’ के माध्यम से दर्शाने के लिए विशेष स्मारक विकसित करने की घोषणा की. उन्होंने पानीपत के आठ एकड़ में स्थित काला आंब मराठा युद्ध स्मारक स्थल का विस्तार कर अब 20 एकड़ में करने की घोषणा भी की. 

'हरियाणा और महाराष्ट्र का माटी और खून का रिश्ता है'
फड़णवीस ने कहा कि हरियाणा और महाराष्ट्र का माटी और खून का रिश्ता है. यहां महाराष्ट्र के एक लाख से अधिक वीर मराठाओं ने पानीपत की तीसरी लड़ाई में देश को आक्रांताओं से मुक्ति के लिए अपना खून बहाया था. आज लाखों मराठा हरियाणा की धरती को अपनी मातृभूमि बनाकर यहां रह रहे हैं.

मनोहर लाल ने पर्यटकों का स्वागत करते हुए कहा कि इस तरह के मेलों से देश की एकता व अखंडता मजबूत होती है. इस मेले में 31 से ज्यादा देश हिस्सा ले रहे हैं और हम इसके लिए और अन्य देशों को भी निमंत्रण दे रहे हैं. 

मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा सरकार ने अखिल भारतीय सांस्कृति कला परिषद नई दिल्ली के साथ समझौता किया है जिसके हमारे कलाकार भी दूसरे देशों में अपनी सांस्कृतिक विरासत को पहुंचाने के लिए आगे बढ़ेंगे. 

'इस बार 31 से ज्यादा देश भागीदारी कर रहे हैं'
हरियाणा के पर्यटन मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि सूरजकुंड मेले में पिछले वर्ष 25 देशों ने हिस्सेदारी की थी और 600 स्टाल लगे थे तथा आगंतुकों की संख्या 16 लाख थी. इस बार 31 से ज्यादा देश भागीदारी कर रहे हैं और स्टालों की संख्या भी 1400 से ज्यादा हो गई है. 

महाराष्ट्र के पर्यटन मंत्री जयकुमार रावल ने कहा कि सूरजकुंड मेला वास्तव में विश्व का सबसे बड़ा ‘‘आर्ट एंड क्राफ्ट’’ मेला है और हरियाणा सरकार इसके बेहतर प्रबंधन के लिए बधाई की पात्र है. 

मेले के पार्टनर देश थाईलैंड के राजदूत ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया. इस अवसर पर हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार, लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह सहित कई गणमान्य लोग मौजूद थे.

(इनपुट - भाषा)