close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अफगानिस्तान से भारत आई 240 करोड़ की हेरोइन जब्त, चार गिरफ्तार

एनसीबी अब इस रैकेट से जुड़े और लोगों की तलाश कर रही है जो इस गोरखधंधे में लिप्त है.. 

अफगानिस्तान से भारत आई 240 करोड़ की हेरोइन जब्त, चार गिरफ्तार
एनसीबी ने ज़ी न्यूज़ को बताया की गिरफ्तार 2 कश्मीरी युवकों ने बताया की उनके पास किसी के जरिये आई थी उनका काम ड्रग्स को पंजाब तक पहुंचना था.

नई दिल्लीः नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने ड्रग्स के बड़े रैकेट का पर्दाफाश करते हुए इस साल की सबसे बड़ी खेप बरामद की है. इस मामले में जहां चार लोगों की गिरफ्तारी के साथ 60 किलो हेरोइन बरामद हुई है.जिसकी अंतराष्ट्रीय कीमत करीब 240 करोड़ बताई जा रही है. एनसीबी अब इस रैकेट से जुड़े और लोगों की तलाश कर रही है जो इस गोरखधंधे में लिप्त है.. 

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के डीजी एस के झा के मुताबिक,  'जानकारी मिली की... एक बड़ी खेप जम्मू आने वाली है..सूचना मिलने के बाद एनसीबी ने एक टीम बनाई. कुपवाड़ा डिस्टिक से तीन लोगों को गिरफ्तार किया..इनकी कार से 22 किलो हेरोइन बरामद हुई, जिसे कार में छुपा कर रखा गया था..गिरफ्तार किए गए तीनों कश्मीर के रहने वाले हैं..बसीर अहमद (29), फिरोज अहमद (28), बासित अहमद (23)..इन तीनों की गिरफ्तारी के बाद पंजाब के जालंधर से गैंग की रिसीवर परमजीत सिंह (48) को गिरफ्तार किया गया.. जिसके पास से साढ़े 22 लाख रुपए बरामद हुए..परमजीत से पूछताछ के एनसीबी ने कश्मीर के हंदवाडा में 38 किलो हेरोइन और बरामद की.

Image

एनसीबी ने ज़ी न्यूज़ को बताया की गिरफ्तार 2 कश्मीरी युवकों ने बताया की उनके पास किसी के जरिये आई थी उनका काम ड्रग्स को पंजाब तक पहुंचना था. इस गैंग का मुखिया परविंदर है जो अब एनसीबी की गिरफ्त में है. एनसीबी ने बताया की हेरोइन को भारत में लाने का जो रूट है. वह अफगानिस्तान से पाकिस्तान और फिर बॉर्डर एरिये में सेंध लगाकर जम्मू के रास्ते पंजाब और फिर दूसरे शहरों में सप्लाई तक पहुंचती है.

Image

इनके पास से एनसीबी को अफगानिस्तान की मुद्रा के साथ 2 कार भी बरामद हुई है..जिन कारों में छुपाकर ड्रग्स सप्लाई करते थे.

Image

अब एनसीबी इनकी गिरफ्तारी के बाद ये पता लगाने की कोशिश कर रही है की अफगानिस्तान से भारत भेजने वाला वो शख्स कौन है जो यहां ये ड्रग्स भेज रहा है..और अब तक ये चारों कितनी मात्रा में ड्रग्स सप्लाई कर चुके हैं और कितने लोग इनके गैंग में शामिल है.