भारतीय डाक विभाग की 'ढाई आखर' प्रतियोगिता, खत्त लिखने पर मिलेंगे हजारों के ईनाम

लोगों को पत्र लेखन के ​प्रति दोबारा से आकृषित करने के उद्देश्य को लेकर भारतीय डाक विभाग (Indian Postal Department) ने ढाई आखर स्कीम (Dhai Akhar) लेखन प्रतियोगिता की शुरुआत की है.

भारतीय डाक विभाग की 'ढाई आखर' प्रतियोगिता, खत्त लिखने पर मिलेंगे हजारों के ईनाम
हिसार के डाकघर के मुख्य अधीक्षक अनिल रोज ढाई आखर योजना की जानकारी देते हुए.

हिसार: एक जमाना था जब चिट्ठियां दूरदराज के लोगों से संवाद का सबसे बड़ा साधन मानी जाती थीं. लेकिन डिजिटल दौर में बहुत कम लोग चिट्ठियां लिखते हैं. ऐसे में लोगों को पत्र लेखन के ​प्रति दोबारा से आकृषित करने के उद्देश्य को लेकर भारतीय डाक विभाग (Indian Postal Department) ने ढाई आखर स्कीम (Dhai Akhar) लेखन प्रतियोगिता की शुरुआत की है. इसके तहत 50 हजार रुपए तक का ईनाम भी मिलेगा.

हिसार के मुख्य डाकघर के अधीक्षक ​अनिल रोज का कहना है कि प्रतियोगिता के तहत अलग-अलग आयु वर्ग के लोगों को 'प्रिय बापू, आप अमर हैं' शीर्षक पर पत्र लिखना होगा. स्कीम के मुताबिक पत्र केवल हाथ से ही लिखना होगा. पत्र भेजने की अंतिम तारिख 31 दिसंबर है. रोज ने बताया कि विभाग के अधिकारियों ने इस योजना के लिए पूरी तैयारियां कर ली हैं. योजना के पीछे का उद्देश्य आमजन को पत्र लेखन के प्रति आकृषित करना है. 

लाइव टीवी देखें

किस वर्ग को कितना ईनाम
पत्र लिखने वाले को अलग-अलग वर्ग के हिसाब से ईनाम राशि भी दी जाएगी. राष्ट्रीय स्तर की अगर बात की जाए तो इसमें पहले नंबर पर रहने वाले को 50 हजार, दूसरे पर रहने वाले को 25 हजार और तीसरे नंबर पर आने वाले को 10 हजार रुपए का ईनाम दिया जाएगा. वहीं बात करें सर्कल अथवा राज्य स्तर की तो इसमें पहले नंबर पर आने वाले को 25 हजार, दूसरे पर आने वाले को 10 हजार और तीसरा पुरस्कार 5 हजार की राशि का होगा.

क्या है आयु सीमा
प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए डाक विभाग ने आयु सीमा भी निर्धारित की है. जूनियर वर्ग में 18 वर्ष तक और सीनियर वर्ग में 18 वर्ष से अधिक का कोई भी व्यक्ति प्रतियोगिता में भाग ले सकता है.