close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INLD में घमासान : ओपी चौटाला ने पोतों के बाद अब बड़े बेटे अजय चौटाला को भी पार्टी से निकाला

प्रदेश अध्‍यक्ष अशोक अरोड़ा ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि अभय चौटाला को पार्टी की प्राथमिकता सदस्यता से निष्कासित किया जाता है.

INLD में घमासान : ओपी चौटाला ने पोतों के बाद अब बड़े बेटे अजय चौटाला को भी पार्टी से निकाला
(फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली/चंडीगढ़ : इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) में पड़ी फूट के बीच बुधवार को पार्टी की तरफ से एक और बड़ा फैसला लिया गया, जिसके तहत इनेलो के प्रधान महासचिव और ओमप्रकाश चौटाला के बड़े बेटे अजय चौटाला को अजय चौटाला को पार्टी से निकाल दिया गया. प्रदेश अध्‍यक्ष अशोक अरोड़ा ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि अभय चौटाला को पार्टी की प्राथमिकता सदस्यता से निष्कासित किया जाता है.

उन्‍होंने चंडीगढ़ में एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा कि उनकी 12 नवंबर को मुलाकात ओमप्रकाश चौटाला से हुई थी, जिसमें फैसला लिया गया कि अजय चौटाला को प्रधान महासचिव के साथ ही पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से भी निष्कासित किया जाता है. 

प्रदेशाध्यक्ष अरोड़ा ने ओमप्रकाश चौटाला के दस्‍तख्‍त किया हुआ एक निष्कासन पत्र भी मीडिया को दिखाया, जिसमें लिखा हुआ था कि 7 अक्टूबर 2018 को जींद में हुई रैली के दौरान दुष्यंत और दिग्विजय को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल पाया गया था, लिहाजा उनकी प्राथमिक सदस्यता रद्द की जाती है." 

ये भी पढ़ें- इनेलो में मतभेद और बढ़ा, अजय चौटाला ने बुलाई मीटिंग, कहा- INLD किसका होगा, ये फैसला होगा

दरअसल, इंडियन नेशनल लोकदल के अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला ने अपने दो पोतों को ‘अनुशासनहीनता’ का दोषी पाते हुए उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया था. इससे कुछ दिन पहले इन दोनों-हिसार के सांसद दुष्यंत चौटाला और युवा नेता दिग्विजय चौटाला को पार्टी से निलंबित किया गया था. दोनों ही ओम प्रकाश चौटाला के बड़े बेटे अजय के बेटे हैं.

इसके बाद इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) में मतभेद बीते शुक्रवार को और गहरा गया, जब पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला के बेटे अजय सिंह चौटाला अपने छोटे भाई अभय सिंह चौटाला द्वारा बुलाई गई बैठक में नहीं आए और इसकी बजाए 17 नवंबर को उन्होंने खुद एक बैठक बुलाई.

ये भी पढ़ें- INLD दो फाड़, अजय चौटाला बोले- कुछ नहीं मांगेंगे, अब लड़ाई होगी

अजय सिंह चौटाला ने कहा कि जींद में कार्यकारी समिति की बैठक में इंडियन नेशनल लोकदल किसका होगा इस बारे में फैसला होगा. हरियाणा की पार्टी में तब मतभेद गहरा गया जब ओमप्रकाश चौटाला ने अपने पोते दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला को अनुशासनहीनता के लिए पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया.

उल्‍लेखनीय है कि इंडियन नेशनल लोक दल (इनेलो) दो फाड़ होने के कगार पर दिख रहा है. इनेलो के वरिष्ठ नेता अजय सिंह चौटाला बीते सोमवार को पार्टी से निष्कासित अपने बेटों के पक्ष में खुलकर सामने आ गए थे और दावा किया कि पार्टी के कई मौजूदा तथा पूर्व विधायक उनके समर्थन में हैं. हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं इनेलो के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला के बड़े बेटे अजय दो हफ्ते के पैरोल पर दिल्ली की तिहाड़ जेल से रिहा हुए हैं. जेल से रिहाई के बाद अजय ने नई दिल्ली में अपने बेटे और हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला के सरकारी आवास पर शक्ति प्रदर्शन किया. उन्होंने वहां घोषणा की कि पार्टी ‘‘किसी की बपौती नहीं है.’