जानिए, जामिया में गोली चलाने से पहले हमलावर ने फेसबुक पर क्या-क्या लिखा था

जामिया में गोलीकांड को अंजाम देने से रामभक्त गोपाल ने पहले फेसबुक पर कई स्टेटस डाले थे. 

जानिए, जामिया में गोली चलाने से पहले हमलावर ने फेसबुक पर क्या-क्या लिखा था

नई दिल्ली: दिल्ली के जामिया इलाके में गुरुवार को नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन के दौरान गोलीबारी हो गई. जामिया के छात्रों ने आज नागरिकता कानून के विरोध में जामिया से राजघाट तक मार्च निकालने का ऐलान किया था. मार्च निकालने के दौरान ही एक शख्स ने पहले तो पिस्तौल लहराई और उसके बाद में गोली चला दी. गोली चलाने वाले युवक जेवर कस्बेे में रहता हैं और पान की दुकान करते हैं. 

गोलीबारी में जामिया यूनिवर्सिटी का एक छात्र शादाब घायल हो गया है. शादाब जामिया यूनिवर्सिटी में मास कम्यूनिकेशन का छात्र है. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यूपी के जेवर का रहने वाला बताया जा रहा है. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. डीसीपी चिन्मॉय बिस्वाल का कहना है कि शादाब के बाएं हाथ में गोली लगी है और अभी खतरे से बाहर है. जिसने फायर किया उससे पूछताछ जारी है.

VIDEO भी देखें:

जामिया में गोलीकांड को अंजाम देने से पहले उसने फेसबुक पर कई स्टेटस डाले थे. एक स्टेटस में उसने लिखा, 'आजादी दे रहा हूं' तो एक अन्य स्टेट्स में लिखा, "मैं यहां अकेला हिंदू हूं, मेरे घर का ख्याल रखना. शाहीन बाग खेल खत्म, कोई हिंदी मीडिया नहीं है यहां." एक अन्य स्टेट्स पर आरोपी ने लिखा, "मेरी अंतिम यात्रा पर मुझे भगवा में ले जाया जाए और जय श्रीराम के नारे हों." 

जामिया में ऐसे हुई गोलीबारी 

CAA के विरोध में जामिया के छात्रों ने दिल्ली में मार्च का आयोजन किया था. जामिया के छात्रों का मार्च राजघाट तक जा रहा था, पुलिस ने इस मार्च को अनुमति नहीं दी. होली फैमली अस्पताल के पास पुलिस तैनात थी, पुलिस मार्च को रोकने के लिए बात कर रही थी. भीड़ के बीच निकलकर सामने आया युवक. युवक ने प्रदर्शनकारियों के सामने पिस्तौल लहराई. इस दौरान युवक लगातार नारे लगा रहा था. पुलिस के युवक तक पहुंचने से पहले उसने गोली चला दी. युवक की गोली से जामिया का एक छात्र घायल हो गया.