close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चौधरी सर छोटूराम की जयंती पर जुटेंगे जाट, फीडबैक जुटा बनाएंगे अगली रूपरेखा

दीनबंधु चौधरी सर छोटूराम की 139वीं जयंती के मौके पर जाट समुदाय हरियाणा में एक बड़े समारोह की तैयारी में है.

चौधरी सर छोटूराम की जयंती पर जुटेंगे जाट, फीडबैक जुटा बनाएंगे अगली रूपरेखा
हिसार में जाट आरक्षण संघर्ष समिति राज्यस्तरीय नेतागण मंथन करते हुए.

हिसार: दीनबंधु चौधरी सर छोटूराम की 139वीं जयंती के मौके पर जाट समुदाय हरियाणा में एक बड़े समारोह की तैयारी में है. कार्यक्रम की बागडोर अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने संभाली है, बकायदा मीटिंगों का दौर पूरे प्रदेश में शुरू हो गया है. कार्यक्रम को लेकर पूरे हरियाणा में तमाम ग्रामीण एरिया में पहुंच कर भी न्यौता दिया जाएगा. उम्मीद यहीं है कि इस कार्यक्रम के जरिए जाट समुदाय कुछ बड़ा ऐलान भी कर सकता है. 

हालांकि अभी सिर्फ यह चर्चाएं ही है. आपकों बता दें कि हरियाणा की राजनीति में पिछले कुछ समय से जाट आरक्षण का मामला अपने आप में सुर्खियों में रहा है. आरक्षण के लिए चलाया गया आंदोलन जब हिंसा का रूप ले गया था, तो बीजेपी की गले की फांस भी बन गया था. कांग्रेस और बीजेपी के नेताओं में एक दूसरे पर कटाक्ष करने का दौर भी शुरू हो गया था. कुल मिलाकर माहौल अब शांत है. लेकिन विधानसभा में मनोहर सरकार पार्ट टू के पहले सेंशन में कांग्रेस नेता रघुबीर कादियान ने आरक्षण को लेकर ब्यान देते हुए आरक्षण आंदोलन के दौरान दर्ज केसों में जेलों में बंद निर्दोेष युवाओं से केस वापिस लेकर उनकी रिहाई सुनिश्चित करवाई जाएं. कादियान के इस बयान की अब जाट आरक्षण संघर्ष समिति प्रशंसा करते हुए स्वागत योग्य बता रही है.

जसिया में मीटिंग में हुआ था यह निर्णय
अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेशाध्यक्ष महेंद्र सिंह पूनियां ने कहा कि जसिया में बीते दिनों मीटिंग हुई थी. जिसमें फैंसला लिया गया था कि हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी चौधरी छोटूराम की जयंती समारोह का आयोजन होगा. यह समारोह 24 नवंबर को होगा. उन्होंने कहा कि मार्च 2016 से 20 मार्च 2017 तक चले आंदोलन के दौरान हरियाणा व केंद्र सरकार के साथ हुए समझौतों में से कुछ मांगे पूरी हुई है. जैसे श्हीदों को मुआवजा, शहीदों के आश्रितों को नौकरी, घायलों को मुआवजा जैसी बातें. लेकिन आरक्षण आंदोलन के दौरान दर्ज केस वापिस लेने वाली मांग मानने के बावजूद पूरी नहीं हुई. ऐसे में अब इन तमाम पहलुओं को भी इस समारोह के दौरान समुदाय के समक्ष रखा जाएगा.

अखिल भारतीय जाट आरक्षण समिति हरियाणा के मुख्य महा​सचिव रामभगत मलिक ने कहा कि आरक्षण की मांग और आंदोलन के दौरान बंद युवाओं की रिहाई के लिए अब अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति किस तरह से कार्रवाई करें, इसी पर मंथन को लेकर जाट आरक्षण समिति के सदस्य गांव-गांव पहुंचेंगे. समिति चौधरी सर छोटूराम की जयंती मनाएगी, इसी जयंती पर पूरे प्रदेश के जाट समुदाय के लोगों को इक्टठा किया जा रहा है. फीडबैक कार्यक्रम में जुटाया जाएगा. समिति के नेता का कहना है कि बीजेपी सरकार के दौरान 3 बार वार्तालाप हुई, लेकिन सरकार ने मांगे मानने की सहमति बनने के बावजूद भी सहमतियों को सिरे नहीं चढ़ाया. जाट आरक्षण संघर्ष समिति के नेताओं ने तर्क दिया कि प्रदेश में बीजेपी मिशन 75 पार की बाते करती थी, लेकिन अपने दम पर इसी​लिए ही सरकार नहीं बचा पाई क्योंकि 35 वर्सिज एक का नारा देने वाली इस सरकार को जनता ने सबक सिखाया है.

LIVE टीवी: 

हिसार में भी प्रचार शुरू
जाट आरक्षण संघर्ष समिति सर छोटूराम की जयंति पर बड़ा आयोजन कर रही है. इस कार्यक्रम को सिरे चढ़ाने के लिए हिसार में भी टीमें बनाई गई है. अखिल भारतीय जाट आरक्षण समिति, हरियाणा   के हिसार जिलाध्यक्ष बलवान सिंह सुण्डा का कहना है कि बकायदा न्यौता दिया जा रहा है, हर गांव से 40—50 लोग जरूर इस कार्यक्रम में पहुंचेंगे. ऐसे में हजारों की संख्या में हिसार से लोग इस कार्यक्रम के लिए कूच करेंगे. कार्यक्रम में अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के कई दिग्गज नेतागण भी शिरकत करेंगे. पूरे प्रदेश से जुटने वाले जाट समुदाय के सामने अब तक के आंदोलन के दौरान हुई पूरी कार्रवाई का ब्यौरा रखा जाएगा. उसके बाद जैसा फीडबैक समुदाय के लोगों की तरफ से आएगा, वैसे ही पूरे हरियाणा में इसकी रूपरेखा चलाई जाएगी.

एक तरफ जाट समुदाय ने अपने कार्यक्रम की तैयारियां शुरू कर दी है. इस कार्यक्रम पर नजरे अब इसलिए भी विशेष रूप से रहेगी, क्योंकि इसी के जरिए हरियाणा में अगले कदम को लेकर जाट समुदाय विचार विमर्श करेगा. वहीं दूसरी तरफ पूरे मामले के साथ-साथ प्रदेश सरकार पर भी नजर इसलिए रहेगी क्योंकि मनोहर सरकार अब अकेले नहीं जेजेपी के गठबंधन से बनी है. ऐसे में वो इस मामले को कैसे हेंडल करेगी, यह भी देखने वाली बात रहेगी.