close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जींद: 12वीं के छात्र की क्लासरूम में हत्या, लड़की से छेड़खानी का कर रहा था विरोध

हत्या का आरोप जिन छात्रों पर लगा है वे भी इसी क्लास में पढ़ते हैं. फिलहाल पुलिस ने 4 आरोपी छात्रों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. 

जींद: 12वीं के छात्र की क्लासरूम में हत्या, लड़की से छेड़खानी का कर रहा था विरोध
प्रतीकात्मक फोटो.

राज कुमार गोयल, जींद: हरियाणा के जींद से एक दिलदहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां 12वीं क्लास में पढ़ने वाले एक छात्र की क्लासरूम में चाकू घोंपकर हत्या कर दी गई. लड़के का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने अपने साथ पढ़ने वाली छात्रा के साथ हो रही छेड़खानी का विरोध किया था. घटना मंगलवार सुबह की जीन्द के पिल्लूखेड़ा कस्बे के इंडस स्कूल की है. यहां छात्र की कक्षा के अंदर ही चाकू घोंप कर हत्या कर दी गई साथ ही उसके कई अन्य दोस्तों को भी घायल भी कर दिया गया. जानकारी के मुताबिक, हत्या का आरोप जिन छात्रों पर लगा है वे भी इसी क्लास में पढ़ते हैं. फिलहाल पुलिस ने 4 आरोपी छात्रों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. इनमें से 3 को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस चौथे आरोपी की तलाश में जुटी है. 

सफीदो के डीएसपी सुनील कुमार ने बताया कि मंगलवार सुबह जैसे ही स्कूल लगा. बच्चे अपने-अपने क्लास में गए वैसे ही स्कूल की बारहवीं क्लास में बैठे आधा दर्जन छात्रों पर हमला बोल दिया गया. हमले में आधा दर्जन छात्र घायल हो गए. उन्हें तुरंत नजदीक के अस्पताल ले जाया गया. इनमें से 2 की हालात गंभीर देखते हुए उन्हें पीजीआई रैफर कर दिया गया. इनमें से एक छात्र अंकुश को गुरूग्राम के मेदांता अस्पताल में ले जाया गया जहां ईलाज के दौरान अंकुश की मौत हो गई.

यह भी पढ़ें: हरियाणा : दुष्कर्म और छेड़छाड़ के आरोपियों को नहीं मिलेगी सरकारी सुविधाएं

अस्पताल में भर्ती एक छात्र रितिक ने बताया कि हमले से एक दिन पहले कालवा गांव के कुछ सहपाठी क्लास की एक लड़की को छेड़ रहे थे. जब हमने छेड़खानी का विरोध किया तो मंगलवार सुबह उन्होंने चाकुओं से हमला बोल दिया.

यह भी पढ़ें: पानीपत : अंतिम संस्कार से पहले जीवित हुआ आदमी, डॉक्टरों ने किया था मृत घोषित!

वहीं, मृतक के परिजनों का कहना है कि स्कूल प्रबंधन को पहले दिन यानी कि सोमवार को ही इस झगड़े के बारे अगवत करा दिया गया था. लेकिन स्कूल प्रबंधन ने इसे गंभीरता से नहीं लिया. अगर स्कूल प्रबंधन इसे गंभीरता से लेता तो उनके बच्चे की जान नहीं जाती. डीएसपी ने बताया कि मामले में 4 आरोपी छात्रों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. जिनमें से 3 को गिरफतार भी कर लिया है. पुलिस का कहना है कि चौथे आरोपी को भी जल्द ही गिरफतार कर लिया जाएगा.