केजरीवाल ने कहा खड़से ‘देशद्रोही’, किया हार्दिक का समर्थन

आप के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज महाराष्ट्र के पूर्व राजस्व मंत्री एकनाथ खड़से को दाउद इब्राहिम के साथ उनकी कथित बातचीत के लिए ‘देशद्रोही’ करार दिया जबकि पाटीदार नेता हार्दिक पटेल का समर्थन किया जो राजद्रोह के कथित आरोपों को लेकर जेल में बंद है।

केजरीवाल ने कहा खड़से ‘देशद्रोही’, किया हार्दिक का समर्थन

नयी दिल्ली: आप के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज महाराष्ट्र के पूर्व राजस्व मंत्री एकनाथ खड़से को दाउद इब्राहिम के साथ उनकी कथित बातचीत के लिए ‘देशद्रोही’ करार दिया जबकि पाटीदार नेता हार्दिक पटेल का समर्थन किया जो राजद्रोह के कथित आरोपों को लेकर जेल में बंद है।

केजरीवाल की आम आदमी पार्टी भाजपा शासित गुजरात में पैर जमाने का प्रयास कर रही है। केजरीवाल ने कहा कि हार्दिक पटेल पर राजद्रोह का आरोप लगाया गया है जबकि उन्होंने देश के विरूद्ध कुछ भी नहीं किया है। यद्यपि दूसरी ओर कथित काल रिकार्ड से पता चलता है कि भारत के सबसे वांछित अपराधियों में से एक दाउद इब्राहिम ने खड़से को कॉल किये।

खड़से जमीन सौदे में अनियमितताओं सहित भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर निशाने पर थे और उन्होंने आज अपने पद से इस्तीफा दे दिया।आप ने यह भी आरोप लगाया कि उन्हें दाउद से फोन आये। इस आरोप का खड़से ने ही नहीं मुम्बई पुलिस ने भी पूरी तरह से खंडन किया है। मुम्बई पुलिस ने उन्हें क्लीन चिट दी है।

केजरीवाल ने कहा कि भाजपा के लिए असली परीक्षा तब होगी जब मध्य प्रदेश और राजस्थान के मुख्यमंत्रियों क्रमश: शिवराज सिंह चौहान और वसुंधरा राजे भी इस्तीफा दे दें। केजरीवाल ने आप के ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में कहा, ‘‘अब महाराष्ट्र के एक मंत्री हैं (एकनाथ) खड़से साहब। यद्यपि उनकी दाउद इब्राहिम के साथ बातचीत के (कॉल) रिकार्ड सामने आये हैं। तब खड़से देशद्रोही हैं, हार्दिक पटेल नहीं।’ उन्होंने कहा, ‘‘सरकार खड़से साहब के खिलाफ कार्रवाई नहीं करती। वह हार्दिक पटेल के खिलाफ कार्रवाई करती है। हार्दिक पटेल देशद्रोही कैसे हैं? देशद्रोही तो खड़से जैसे नेता हैं।’