किडनी रैकेट: सरगना राजकुमार राव की तलाश में छापेमारी जारी

दिल्ली पुलिस ने गुर्दा व्यापार गिरोह के सरगना की तलाशी के लिए अपने प्रयासों को तेज करते हुए आज तीन शहरों में छापेमारी की।साथ ही अपोलो अस्पताल के अधिकारियों को नोटिस जारी कर उनसे जांच में शामिल होने और पिछले कुछ महीनों में हुए गुर्दा प्रतिरोपण से जुड़े दस्तावेज मुहैया कराने के लिए कहा है।

नयी दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने गुर्दा व्यापार गिरोह के सरगना की तलाशी के लिए अपने प्रयासों को तेज करते हुए आज तीन शहरों में छापेमारी की।साथ ही अपोलो अस्पताल के अधिकारियों को नोटिस जारी कर उनसे जांच में शामिल होने और पिछले कुछ महीनों में हुए गुर्दा प्रतिरोपण से जुड़े दस्तावेज मुहैया कराने के लिए कहा है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस गिरोह के सरगना राजकुमार राव की गिरफ्तारी के लिए पांच अलग-अलग टीमें कोलकाता, चेन्नई और हैदराबाद में छापेमारी कर रहीं हैं। राव के बारे में माना जा रहा है कि वह पिछले कुछ वषरें से इस धंधे में था और नेपाल, श्रीलंका और इंडोनेशिया में इसी तरह के रैकेट से जुड़ा हुआ है।

उन्होंने कहा कि गिरोह में कुछ वरिष्ठ कर्मचारियों और यहां तक कि चिकित्सकों के शामिल होने के संदेह के चलते दिल्ली पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 90 और 160 के तहत अपोलो अस्पताल के उच्चाधिकारियों को नोटिस दिया है और उन्हें जांच में शामिल होने और पिछले कुछ महीनों में अस्पताल में हुए गुर्दा प्रतिरोपण से जुड़े दस्तावेज उपलब्ध कराने को कहा है। उनकी छानबीन 25 सदस्यों की एक टीम करेगी जिसका गठन पूरे गठजोड़ को उजागर करने के लिए किया गया है।

जांचकर्ताओं ने यह भी पाया कि गुर्दा प्राप्त करने वाले तीन लोग और गुर्दा देने वाले पांच लोगों का रैकेट से संबंध हैं और उनके खिलाफ आगे की कानून कार्रवाई पर विचार किया जा रहा है।