4 लोगों को उतारा मौत के घाट, फिर पुलिस को लिखी चिट्ठी, कहा- कर लूंगा आत्महत्या

मुकेश की पत्नी ने पुलिस को एक चिट्ठी सौंपी, जिसमे लिखा था कि उसे इस बात का अफसोस है कि उसने इस हत्याकांड को अंजाम दिया.

4 लोगों को उतारा मौत के घाट, फिर पुलिस को लिखी चिट्ठी, कहा- कर लूंगा आत्महत्या
हैरानी की बात ये है कि घर से कोई भी सामान गायब नही हुआ. ऐसे में पुलिस का कहना है कि हत्या की असली वजह मुकेश की गिरफ्तारी के बाद ही साफ हो पाएगा.

फरीदाबाद: फरीदाबाद सेक्टर 7 में एक  ही परिवार के चार लोगों की हत्या के मामले में पुलिस ने आरोपी की पहचान कर ली है. आरोपी मृतक परिवार के बेटे का दोस्त है. आरोपी का नाम मुकेश ठाकुर है और वो पेशे से जिम ट्रेनर है. आरोपी ने पुलिस को चिट्ठी लिखकर हत्या की बात कबूली है. चिट्ठी में इस बात का जिक्र किया कि मैं चोरी के इरादे से गया था. मुझसे गलती हो गई और मैं आत्महत्या भी कर सकता हूं. जिसके बाद पुलिस आरोपी की तलाश जोर शोर से कर रही है, ताकि वो आत्महत्या ना कर ले. 

दरअसल, बीते शनिवार सुबह तड़के पुलिस को 69 साल के प्रवीण मेन्द्रीदत्ता, उनकी पत्नी सुदेश, बेटी प्रियंका और दामाद सौरव के खून से लथपथ शव उनके घर में मिलने की सूचना मिली. पुलिस जांच में पता चला कि सभी की हत्या धारदार हथियार से की गई थी. वहीं, सभी शव अलग-अलग कमरों में पड़े थे. साथ ही घर के पालतू कुत्ते को एक कमरे में बंद कर दिया गया था. मृतक प्रवीण एम्स (aiims) में डॉक्टर थे, जबकि उनकी पत्नी टीचर थीं. दामाद पेशे से इंजीनियर ओर बेटी प्रियंका नोएडा की कंपनी में जॉब करती थी. पुलिस ने घर के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे की छानबीन की, तो देखा कि मुकेश ठाकुर घर से स्कूटी से निकल रहा था. पुलिस जब मुकेश ठाकुर के घर पहुंची, तो मुकेश गायब था. 

मुकेश की पत्नी ने पुलिस को एक चिट्ठी सौंपी, जिसमे लिखा था कि उसे इस बात का अफसोस है कि उसने इस हत्याकांड को अंजाम दिया. वो आत्महत्या करना चाहता है. उसका मकसद घर में चोरी करना था. पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी से पता चला है कि मुकेश ठाकुर बीते शुक्रवार रात साढ़े 10 बजे एक्सरे कराने के बहाने प्रवीण के घर में घुसा था. सबसे पहले उसने प्रवीण की हत्या की. फिर घर के टीवी को ऑन कर उसकी आवाज़ तेज कर दी. फिर घर के बाकी सदस्यों की हत्या कर दी. हैरानी की बात ये है कि घर से कोई भी सामान गायब नही हुआ. ऐसे में पुलिस का कहना है कि हत्या की असली वजह मुकेश की गिरफ्तारी के बाद ही साफ हो पाएगा.