Breaking News
  • महाराष्‍ट्र के स्‍कूल-कॉलेज में मुस्लिमों को 5 फीसद आरक्षण देने की तैयारी
  • दिल्ली: शाहीन बाग समेत 8 सड़कें खोलने की मांग वाली याचिका पर HC ने केंद्र और दिल्ली सरकार को जारी किया नोटिस
  • कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम राहत. पटेल की एक हप्ते तक नहीं होगी गिरफ्तारी
  • दिल्ली हिंसा: स्वरा भास्कर, अमानतुल्लाह खान और अन्य पर मामला दर्ज करने की मांग, HC ने पुलिस, राज्‍य सरकार को भेजा नोटिस
  • AAP पार्षद ताहिर हुसैन के घर पहुंची फोरेंसिक टीम

मनीष सिसोदिया आज पेश करेंगे दिल्ली का बजट, आवो-हवा सुधारने पर रहेगा जोर

दिल्ली की सत्ता में 3 साल पूरी कर चुकी आप सरकार इस बजट में पर्यावरण को बेहतर बनाने के लिए किसी खास योजना का ऐलान कर सकती है.

मनीष सिसोदिया आज पेश करेंगे दिल्ली का बजट, आवो-हवा सुधारने पर रहेगा जोर
बजट पेश करने से पहले सिसोदिया ने पार्टी नेताओं के साथ एक बैठक का आयोजन किया है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : दिल्ली की केजरीवाल सरकार आज विधानसभा में राज्य का बजट पेश करेगी. बजट पेश करने से पहले वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने एक बैठक बुलाई है. कयास लगाए जा रहे हैं कि आज पेश होने वाले बजट में पर्यावरण को लेकर कोई बड़ा ऐलान किया जा सकता है. सूत्रों का कहना है कि दिल्ली के बजट में इस बार शिक्षा और स्वास्थ्य पर ध्यान केंद्रीत किया गया है. बतौर वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया चौथी बार बजट पेश करने वाले हैं. 

दिल्लीवालों को मिलेगा ग्रीन बजट
दिल्ली की सत्ता में 3 साल पूरी कर चुकी आप सरकार इस बजट में पर्यावरण को बेहतर बनाने के लिए किसी खास योजना का ऐलान कर सकती है. सूत्रों का कहना है कि पिछले दिनों दिल्ली में बढ़ स्मॉग और प्रदूषण के कारण केजरीवाल सरकार ने इस बात का फैसला किया है. सूत्रों का यह भी कहना है कि दिल्ली की हवा से प्रदूषण खत्म करने के लिए इस प्रोजेक्ट में पर्यावरण विभाग, परिवहन विभाग, पीडब्ल्यूडी विभाग और ऊर्जा विभाग को भी हिस्सा बनाया जा सकता है.

LG ने दिल्ली सरकार से कहा - घर तक राशन पहुंचाने की योजना का प्रस्ताव केंद्र को भेजा जाए

स्वास्थ्य और शिक्षा पर दिया जाएगा जोर
दिल्ली की आवो-हवा को स्वस्थ करने के साथ केजरीवाल सरकार लोगों के स्वास्थ्य पर भी ध्यान दे सकता है. कयास लगाए जा रहे हैं कि स्वास्थ्य के क्षेत्र से जुड़ी किसी खास योजना को बजट में शामिल किया जा सकता है. इसके अलावा सरकार चुनावों के दौरान शिक्षा व्यवस्था को दुरूस्त किए जाने के वादे पर भी विचार कर सकती है. देश में जीएसटी लागू होने के बाद केजरीवाल सरकार का यह पहला बजट है, इसलिए लोगों को उम्मीद है कि टैक्स स्लैब में उन्हें सरकार राहत देगी. 

बजट 2018: दिल्ली के प्रदूषण के लिए, वित्त मंत्री ने दी 'दवाई'

आउटकम बजट में हुई थी कई बातें
इससे पहले विधानसभा में बुधवार को सिसोदिया ने आउटकम बजट पेश किया था. सिसोदिया ने आउटकम बजट ऑनलाइन मुहैया करवाते हुए कहा था कि आउटकम बजट में सरकार के 34 विभागों को शामिल किया गया है और इस बजट में आवंटित निधि के खर्च के माध्यम से किसी योजना का लेखा-जोखा पेश करने के सामान्य तरीके से इतर का जिक्र होगा. इसमें प्रत्येक योजना का आकलन दो सूचकांक से किया जाता है जिसमें आउटपुट और आउटकम है. किसी योजना विशेष के मद में सृजित ढांचा या प्रदत्त सेवा पर होने वाले विहित खर्च को आउटपुट कहा जाता है. साथ ही, उस खर्च से लाभान्वित लोगों की संख्या और वे किसी तरह उससे लाभान्वित हुए हैं, को आउटकम कहा जाता है.