दिल्ली : मोर की जान बचाने के लिए 33 मिनट रुकी रही मेट्रो ट्रेन

पटरियों पर घायल मोर को उठाकर उन्हें वाइल्ड लाइफ वालों को सौंपा गया. मोर को तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां उसका उपचार किया गया.

दिल्ली : मोर की जान बचाने के लिए 33 मिनट रुकी रही मेट्रो ट्रेन
मॉडल टाउन स्टेशन के पास पटरियों पर एक घायल मोर को देखकर मेट्रो चालक ने ट्रेन को आधा घंटा तक रोके रखा

नई दिल्ली (नीरज गौड़) : शुक्रवार की सुबह जहांगीरपुरी मेट्रो ट्रेन सेवा करीब आधा घंटे तक बाधित रही. दरअसल, मेट्रो लाइन पर एक घायल मोर पड़ा होने के कारण माडल टाउन से जहांगीरपुरी की तरफ जाने वाली मेट्रो ट्रेन को स्टेशन पर 33 मिनट तक रोके रखना पड़ा. पटरी पर पड़े घायल मोर को बड़ी मशक्कत के बाद वहां से हटाकर वाइल्ड लाइफ वालों को सौंपा गया. वाइल्ड लाइफ सेंटर में मोर का इलाज चल रहा है. उसका इलाज कर रहे विशेषज्ञों ने बताया कि समय रहते ही मोर का उपचार शुरू होने के कारण मोर की जान बच गई.

जानकारी के मुताबिक, सुबह लगभग 9:45 पर मेट्रो ट्रेन जैसे ही माडल टाउन स्टेशन पर पहुंची तभी ड्राइवर ने देखा कि एक मोर ट्रैक पर घायल पड़ा हुआ है. मोर की सुरक्षा को देखते हुए ट्रेन को रोका गया. स्टेशन पर मौजूद सफाई कर्मचारियों ने मशक्कत के बाद मोर को ट्रैक पर से पकड़ा और वहां हटाया. मोर घायल था, लिहाजा वाइल्ड लाइफ वालों को मोर को सौंपा गया जिसे बाद में अस्पताल इलाज के लिए ले जाया गया. इस पूरी कवायद के बाद 10:18 मिनट पर ट्रेन सेवा बहाल हुई. 

हालांकि इस पूरी कवायद में यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा, लेकिन जैसे ही मेट्रो ट्रेन की रुकावट की वजह पता चला तो यात्रियों ने इस सराहनीय कार्य बताया. कुछ यात्रियों का कहना था कि देर हो गई, कोई बात नहीं, लेकिन किसी जीव की तो जान बची.