close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शताब्दी ट्रेन में लगे CCTV से पकड़े गए चोर, पलक झपकते ही उड़ा देते थे फोन

चोरी की वारदातें रोकने के लिए ट्रेनों में सीसीटीवी कैमरे लगाने जैसी व्यवस्थाएं की गई हैं. इसी बदौलत आरपीएफ ने पहली बार शताब्दी ट्रेन में लगे सीसीटीवी की मदद से दो शातिर चोरों को गिरफ्तार किया. जिनके पास से 6 फोन बरामद हुए.

शताब्दी ट्रेन में लगे CCTV से पकड़े गए चोर, पलक झपकते ही उड़ा देते थे फोन

नई दिल्ली: भारतीय रेल में आए दिन क्राइम का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है. यात्रियों से लूट, चोरी जैसी संगीन वारदातें हो रही है. इन्हें रोकने के लिए ट्रेनों में सीसीटीवी कैमरे लगाने जैसी व्यवस्थाएं की जा रही हैं. इसी बदौलत आरपीएफ ने पहली बार शताब्दी ट्रेन में लगे सीसीटीवी की मदद से दो शातिर चोरों को गिरफ्तार किया. जिनके पास से 6 फोन बरामद हुए.

आरपीएफ के सिक्युरिटी कमिश्नर दिल्ली (वेस्ट) राजीव वर्मा ने ज़ी न्यूज़ को बताया की आपराधिक वारदातों पर रोक लगाने के लिए रेल मंत्री और डीजी ने इस तरह के प्रयास किए हैं, जिसमें से एक प्रयास  ट्रेन में सीसीटीवी लगाना भी है. जो करीब एक साल शताब्दी ट्रेन में लगाने से शुरू हुई थी. सीसीटीवी की मदद से ही आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.

सिक्युरिटी कमिश्नर ने बताया की 19 जून को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर शताब्दी ट्रेन कालका जाने के लिए खड़ी थी, तभी एक महिला पैसेंजर अपना सामान ऊपर रैक में रख रही थी, तभी दो लड़के आते हैं और शातिर तरीके से फोन उठाकर चले जाते हैं. ये वारदात ट्रेन में लगे सीसीटीवी में रिकॉर्ड हो गई.

फोन चोरी होने के बाद महिला के साथ दूसरी महिला ने चोरी हुए फोन नम्बर पर कॉल भी किया, जब फोन नहीं मिला तो ट्रेन में चल रहे आरपीएफ एस्कॉट को जानकारी दी, तभी नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के आरपीएफ इंस्पेक्टर भूपेंद्र सिंह ने टीम बनाई, ट्रेन के सीसीटीवी से बदमाशों की फोटो निकलवाई. फिर लोकल इंटेलीजेंस के जरिये चोरों का पता लगवाया और 48 घण्टे के भीतर दोनों चोरों को गिरफ्तार कर लिया. चोरों का नाम भानु प्रताप और समीर है. इनके पास से चोरी हुआ 59 हज़ार का मोबाइल और 6 फोन भी बरामद किए, वो भी चोरी किए हुए थे. अब पुलिस ये पता लगा रही है की ये अब तक कितनी और वारदातों को अंजाम दे चुके हैं.