close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की ताबड़तोड़ छापेमारी, ड्रग्स तस्करों के इंटरनेशनल नेटवर्क का भंडाफोड़

देशभर में एनसीबी ने करोड़ों रुपए के ड्रग्स के साथ 28 लोग गिरफ्तार किए हैं.

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की ताबड़तोड़ छापेमारी, ड्रग्स तस्करों के इंटरनेशनल नेटवर्क का भंडाफोड़
ड्रग्स का इस्तेमाल कई शहरों की रेव पार्टियों में होने वाला था.

दिल्ली: नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने देशभर में अलग-अलग जगहों पर छापे मारकर 22 अगस्त से 30 अगस्त तक लगभग एक हफ्ते में ड्रग्स तस्करों के इंटरनेशनल नेटवर्क का भंडाफोड़ किया है. एनसीबी ने करोड़ों रुपए की कीमत की ड्रग्स को तस्करों के पास से बरामद की. एनसीबी के असिस्टेंट डायरेक्टर ने बताया कि हमारी टीम ने इनपुट्स के आधार पर दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, तेलंगाना और बिहार से ड्रग्स तस्करी करने वाले 5 अफ़गानिस्तान और एक नाइजीरिया के नागरिक समेत 28 लोगों को गिरफ्तार किया.

एनसीबी ने ड्रग्स तस्करों के पास से 1306.41 किलोग्राम पॉपी स्ट्रॉ, 1120 किलोग्राम गांजा, 1.429 किलोग्राम हेरोइन,  3.05 किलोग्राम ओपियम, 500 ग्राम चरस और 100 टैबलेट डायजेपाम की बरामद की, जिसकी कीमत इंटरनेशनल मार्केट में करोड़ों की है. इस ड्रग्स का इस्तेमाल कई शहरों की रेव पार्टियों में होने वाला था.

एनसीबी और कई इंटेलिजेंस एजेंसियों के होने के बावजूद भी कैसे अवैध तरीके से ड्रग्स बॉर्डर पर करके इतनी बड़ी मात्रा में भारत के अलग-अलग शहरों में पहुंच जाना बड़ी चिंता की बात है और ये हमारी इंटेलिजेंस एजेंसियों के काम करने के तरीके पर सवाल भी उठाता है.