close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

प्रिंटर में छिपाकर लाई जा रही कोकीन को NCB ने पकड़ा, इंटरनेशनल नेटवर्क का किया भंडाफोड़

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने कोरियर के जरिए प्रिंटर में छिपाकर लाई जा रही कोकीन को पकड़ा

प्रिंटर में छिपाकर लाई जा रही कोकीन को NCB ने पकड़ा, इंटरनेशनल नेटवर्क का किया भंडाफोड़

नई दिल्ली: नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने कोरियर के जरिए प्रिंटर में छिपाकर लाई जा रही कोकीन को पकड़ा. कोकीन को कोरियर के जरिये कनाडा से भारत के पंजाब लाया जा रहा था. एनसीबी ने इंटेलिजेंस से मिली जानकारी के आधार पर ड्रग्स रैकेट में शामिल पंजाब से योगेश कुमार धुना और अक्शिंदर सिंह को गिरफ़्तार किया है. एनसीबी ने पंजाब के जालंधर से 422 ग्राम कोकीन को जब्त किया, जिसकी कीमत इंटरनेशनल मार्केट में करीब 2 करोड़ रूपये तक हो सकती है. एनसीबी को जानकारी मिली कि कोरियर के जरिए कनाडा से साउथ अमेरिका की कोकीन को भारत लाई जा सकती है.

एनसीबी ने तुरंत एक्शन लेते हुए पंजाब पुलिस और स्पेशल टास्क फोर्स की मदद से ड्रग्स सप्लाई के रैकेट में जुड़े लोगों की तलाश शुरु कर दी. एनसीबी ने कोरियर के रिसीवर को पकड़ने के लिए कोकीन वाले कोरियर की जगह पर, एक दूसरा उसी के जैसा कोरियर रिसीवर के लिए जालंधर के पते पर भेजा और जब योगेश कुमार धुना कोरियर लेने आया तो एनसीबी ने योगेश को गिरफ़्तार कर लिया.

योगेश ने पूछताछ में एनसीबी को बताया कि उसे अमृतसर के रहने वाले अक्शिंदर सिंह की तरफ से कोकीन का कोरियर रिसीव करना था, वो ड्रग्स सप्लाई के एक बड़े रैकेट में काम करता है. फिर एनसीबी ने अमृतसर में अक्शिंदर के घर छापा मारा तो अक्शिंदर घर से भाग गया लेकिन बाद में एसटीएफ और पंजाब पुलिस की मदद से अक्शिंदर को गिरफ़्तार कर लिया.

एनसीबी के डिप्टी डारेक्टर जनरल एस. के. झा ने बताया कि योगेश और अक्शिंदर से पूछताछ करके ड्रग्स सप्लाई रैकेट में शामिल और लोगों का पता लगाने की कोशिश की जा रही है. एनसीबी ने पिछले 15 दिनों ने ताबड़तोड़ छापे मारके दिल्ली, मुंबई और देश के अलग-अलग राज्यों से बड़ी मात्रा में ड्रग्स और ड्रग्स सप्लाई करने वालों को पकड़ा है, लेकिन फिर भी भारत में विदेश से होने वाली ड्रग्स सप्लाई रुकने का नाम नहीं ले रही है.

इनपुट: जितेंद्र शर्मा