close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शीला दीक्षित को याद कर भावुक हुए नटवर सिंह, कहा- वो सम्मान से करती थीं राजनीति

नटवर सिंह ने कहा कि शीला दीक्षित के बिना दिल्ली में फ्लाई ओवर और मेट्रो की उम्मीद नहीं की जा सकती थी.

शीला दीक्षित को याद कर भावुक हुए नटवर सिंह, कहा- वो सम्मान से करती थीं राजनीति
नटवर सिंह ने कहा कि शीला दीक्षित के बिना दिल्ली में फ्लाई ओवर और मेट्रो की उम्मीद नहीं की जा सकती थी.

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली की सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का रविवार को निगमबोध घाट पर अंतिम संस्कार हुआ. शीला दीक्षित की मृत्यु के बाद कई राजनेताओं की प्रतिक्रिया सामने आई है. इसी बीच शाली दीक्षित के खास मित्र और पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंग ने कहा कि उन्हें याद करना प्यार और सम्मान की बात है.  नटवर सिंह ने कहा कि शीला दीक्षित के बिना दिल्ली में फ्लाई ओवर और मेट्रो की उम्मीद नहीं की जा सकती थी.

कभी किसी से शाली ने नहीं की ऊंची आवाज में बात
पूर्व केंद्रीय मंत्री नटवर सिंह ने शीला दीक्षित के काम के तरीकों को याद करते हुए कहा कि उन्होंने कभी किसी से ऊंची आवाज में बात नहीं की. उन्होंने कहा कि दिल्ली की मुख्यमंत्री रहते शीला दीक्षित पर कभी भी कोई आरोप नहीं लगे और उन्होंने एक विजन के साथ दिल्ली का विकास किया. शीला दीक्षित से अपनी दोस्ती को याद करते हुए नटवर सिंह ने कहा कि जब वह कठिन समय से गुजर रहे थे तो शीला दीक्षित ने उनका साथ दिया.

लोकसभा चुनाव में शीला दीक्षित के चुनाव लड़ने पर नटवर सिंह ने कहा कि जब उन्हें इस बात का पता चला तो हैरानी हुई. नटवर सिंह ने कहा, "इसके बाद मैंने शीला दीक्षित से इस संबंध में बात की तो उन्होंने बड़े ही शालीनता पूर्वक कहा कि पार्टी जो कहेगी वो उनके लिए सर्वोपरि है.''