close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लिव इन पार्टनर पर था अफेयर का शक, गला दबाकर की हत्या, पुलिस ने किया गिरफ्तार

पुलिस का दावा है कि मृतका पायल (30) दूसरी पत्नी के तौर पर उसके साथ रह रही थी. उसकी एक बेटी भी है. पहली पत्नी गांव में तीन बच्चों के साथ रहती है.

लिव इन पार्टनर पर था अफेयर का शक, गला दबाकर की हत्या, पुलिस ने किया गिरफ्तार
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली: किसी और से अफेयर होने के शक में लिव-इन-पार्टनर की गला दबाकर हत्या करने वाले शख्स को नई दिल्ली डिस्ट्रिक्ट पुलिस ने धर दबोचा. इसकी पहचान राजस्थान निवासी रामदास (42) के तौर पर हुई है. इसकी निशानदेही पर छावला के फ्लैट से महिला का शव बरामद किया गया. पुलिस का दावा है कि मृतका पायल (30) दूसरी पत्नी के तौर पर उसके साथ रह रही थी. उसकी एक बेटी भी है. पहली पत्नी गांव में तीन बच्चों के साथ रहती है. फिलहाल आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है 

नई दिल्ली के डीसीपी ईश सिंघल ने बताया कि गुरुवार रात को पायल छावला रामदास से मिलने के लिए पहुंची, लेकिन दोनों में झगड़ा हो गया और उसी दौरान गुस्से में आकर रामदास ने लकड़ी के एक मोटे डंडे से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी. बाद में लाश को ग्राउंड फ्लोर के बाथरूम में बंद करके उसने बाहर से ताला लगा दिया. 

शुक्रवार की सुबह कनॉट प्लेस थाने के एसआई अमित कुमार पंचकुइयां रोड पर ड्यूटी दे रहे थे, उसी दौरान उन्हें सूचना मिली कि रामदास नाम के एक शख्स ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी है और वह दिल्ली से बाहर भागने वाला है. ट्रेन पकड़ने के लिए वह सुबह 9:30 बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पहुंचने वाला है. मुखबिर ने सफेद रंग के उस स्कूटर का नंबर भी बताया, जिस पर सवार होकर रामदास रेलवे स्टेशन पहुंचेन वाला था. सूचना मिलते ही टीम ने आउटर सर्कल स्थित एच ब्लॉक के पास ट्रैप लगाकर उसे गिरफ्तार कर लिया. 

लाइव टीवी देखें

पूछताछ में रामदास ने बताया कि वह राजस्थान के धौलपुर का रहने वाला है और हलवाई का काम करता था. पहले उसकी शादी शारदा नाम की एक महिला से हुई, लेकिन 2007 में वह पायल नाम की एक लड़की से मिला और दोनों एक-दूसरे को चाहने लगे. कुछ दिनों बाद उसे शक हुआ कि पायल के मुकेश नाम के युवक से अवैध संबंध हैं. इस बात को लेकर उनके बीच झगड़ा होता था. इसके अलावा कुछ समय पहले रामदास ने पहली पत्नी शारदा के नाम से एक प्लाट खरीदा था. जब पायल को पता चला तो वह रामदास से अकसर झगड़ा करती कि वह उसके नाम से भी एक प्लाट खरीदे. इस बात को लेकर पायल ने रामदास की बहन से झगड़ा किया था. पायल हरकतों से परेशान होकर रामदास ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया.