close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अफगानिस्तान से भारत में होती थी हेरोइन की स्मगलिंग, पुलिस ने 9 लोगों को पकड़ा

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने नवी मुंबई से 130 किलो हेरोइन जब्त करते गिरोह के सरगना समेत दो तस्करों को गिरफ्तार किया है. इनमें एक अफगानिस्तान का नागरिक शामिल है. बरामद हेरोइन की यह खेफ भी पिछले दिनों पकड़ी गई 200 किलो हेरोइन की तरह ही अफगानिस्तान से ईरान के समुद्री रास्ते मुंबई लाई गई थी. इसकी अंतराष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब 500 करोड़ बताई जा रही है. 

अफगानिस्तान से भारत में होती थी हेरोइन की स्मगलिंग, पुलिस ने 9 लोगों को पकड़ा
अफगानिस्तान से नवी मुंबई लाई जाती थी हेरोइन, फिर वहांं से ट्रेन से दिल्ली.

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने एक हफ्ते के अंदर 1320 करोड़ की हेरोइन पकड़ी है औरर एक बड़े अफगानी सिंडिकेट का पर्दाफाश किया है. अब तक कुल 9 लोग पकड़े गए हैं, जिसमें 5 अफगानी नागरिक हैं. ये हेरोइन अफगानिस्तान से समुद्री रास्ते से आती थी. नवी मुम्बई से तुलसी के बीज के बैग के अंदर 520 करोड़ की हेरोइन पकड़ी गई थी. पुलिस आज आरोपी अफगानी नागरिक और हेरोइन की खेप लेकर ट्रेन से दिल्ली पहुंची, जहां उसे पकड़ लिया गया.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने नवी मुंबई से 130 किलो हेरोइन जब्त करते गिरोह के सरगना समेत दो तस्करों को गिरफ्तार किया है. इनमें एक अफगानिस्तान का नागरिक शामिल है. बरामद हेरोइन की यह खेफ भी पिछले दिनों पकड़ी गई 200 किलो हेरोइन की तरह ही अफगानिस्तान से ईरान के समुद्री रास्ते मुंबई लाई गई थी. इसकी अंतराष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब 500 करोड़ बताई जा रही है. 

गैंग का मास्टरमाइंड भी गिरफ्तार
स्पेशल सेल के डीसीपी मनीषी चंद्रा के बताया गिरफ्तार किए गए तस्करों की पहचान कांधार निवासी अहमद शाह आलोकजई और तिफल नौखेज उर्फ तिफाले के रूप हुई है.

डीसीपी के मुताबिक बीती 19 जुलाई को दो अफगानियों समेत पांच तस्करों की गिरफ्तारी के बाद जामिया नगर में एक कारखाना का पता चला था, जहां बड़ी मात्रा में हेरोइन जब्त की गई थी. यहां पर तस्करों ने प्रोसेसिंग यूनिट लगाई हुई थी. तस्करों से पता चला था कि तिफाले इस पूरे नेटवर्क का सरगना है. 

बीती 23 जुलाई को सेल ने सोनीपत के कोंडली में एक कोल्ड स्टोरेज में किशमिश में छिपाकर रखी गई 50 किलो हेरोइन पकड़ी थी और अफगानी मूल के दो और तस्करों को गिरफ्तार किया था. सातों तस्करों के तार आपस में जुड़े थे. इनसे से पूछताछ के ही आधार पर पुलिस को आलोकजई के बारे में जानकारी मिली, जिसके बाद पुलिस ने छापामारी करके दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस ने तिफाले की निशानदेही पर सेल की टीम ने मुंबई के कस्टम अधिग्रहित एरिया के एक कारगो से 260 से ज्यादा बोरियां बरामद की है. आरोपी तीन लेयर्स में जूट की बोरियां लगाते हैं. सबसे ऊपर की बोरी साधारण होती थी, जबकि उसके नीचे वाली बोरी पर लिक्विड हेरोइन होती थी.

लाइव टीवी देखें-:

आखिरी वाली बोरी में तुलसी के बीज रखे होते थे, जिससे रास्ते में चेकिंग में किसी को पता न चले कि सभी बोरियों के बीच में पॉलीबैग लगाया जाता है, जिससे हेरोइन सुरक्षित रहे. फिलहाल पुलिस दोनों तस्करों से पूछताछ कर आगे की कार्रवाई कर रही है.