close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हरियाणा के रिकॉर्ड बजट में जनता से नहीं लिया जाएगा कोई नया कर

हरियाणा के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने आगामी वित्त वर्ष 2018-19 के लिए शुक्रवार को विधानसभा में रिकॉर्ड 1,15198.29 करोड़ रुपये का बजट पेश किया लेकिन बजट में कोई नया कर नहीं लगाया गया है.

हरियाणा के रिकॉर्ड बजट में जनता से नहीं लिया जाएगा कोई नया कर
प्राकृतिक गैस पर मूल्यवर्धित कर (वैट) को 12.5 फीसदी से घटाकर 6 फीसदी करने की घोषणा की. (फाइल फोटो)

चंडीगढ़: हरियाणा के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने आगामी वित्त वर्ष 2018-19 के लिए शुक्रवार को विधानसभा में रिकॉर्ड 1,15198.29 करोड़ रुपये का बजट पेश किया लेकिन बजट में कोई नया कर नहीं लगाया गया है. वित्तमंत्री ने उद्योग द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली प्राकृतिक गैस पर मूल्यवर्धित कर (वैट) को 12.5 फीसदी से घटाकर 6 फीसदी करने की घोषणा की. अपना चौथा बजट पेश करते हुए अभिमन्यु ने कहा कि चालू कीमतों पर राज्य में प्रति व्यक्ति आय 2016-17 में अनुमानित 1,78,890 रुपये थी, जो बढ़कर 1,96,982 रुपये होने की उम्मीद है, जोकि देश मे सबसे ज्यादा है. राष्ट्रीय प्रति व्यक्ति आय 1,12,764 रुपये है.

ये भी पढ़ें : 'मेरी बेवकूफी के कारण हरियाणा में BJP सरकार' : ओमप्रकाश चौटाला

आगामी वित्त वर्ष के बजट में 12.6 फीसदी का इजाफा
उन्होंने कहा कि पिछले साल 2017-18 में 1,02,329.35 करोड़ रुपये के स्वर्ण जयंती बजट की तुलना में आगामी वित्त वर्ष के बजट में 12.6 फीसदी का इजाफा किया गया है. 2017-18 के संशोधित बजट अनुमान 1,00739.38 करोड़ रुपये की तुलना में यह 14.4 फीसदी ज्यादा है. बजटीय खर्च में 26.1 फीसदी के साथ 30,012 करोड़ रुपये का पूंजीगत व्यय और 73.9 फीसदी के साथ 85,187 करोड़ रुपये का राजस्व व्यय है. कुल बजट का करीब 28.7 फीसदी का आवंटन कृषि और संबंधित क्षेत्र के लिए किया गया है.

ये भी पढ़ें : गैंगरेप के मामलों में हरियाणा सबसे आगे, छेड़छाड़ में दिल्‍ली- रिपोर्ट

सिंचाई व ग्रामीण बिजली अनुदान पर 12.22 फीसदी, ऊर्जा पर 5.87 फीसदी, परिवहन, नागरिक उड्डयन, सड़क व सेतु पर 4.73 फीसदी, ग्रामीण विकास व पंचायत पर 3.76 फीसदी और अन्य क्षेत्र के लिए 1.12 फीसदी बजटीय आवंटन का प्रावधान किया गया है.