नई सड़क बनाने के लिए पहले पुरानी को तोड़ा जाएगा: अरविंद केजरीवाल

दिल्ली में अब सड़कों के नव निर्माण में नई तकनीक का इस्तेमाल होगा. इसके तहत सड़क नव निर्माण के लिए अब पुरानी सड़क को तोड़ा जाएगा. 

नई सड़क बनाने के लिए पहले पुरानी को तोड़ा जाएगा: अरविंद केजरीवाल
.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली में अब सड़कों के नव निर्माण में नई तकनीक का इस्तेमाल होगा. इसके तहत सड़क नव निर्माण के लिए अब पुरानी सड़क को तोड़ा जाएगा. उससे निकले मैटेरियल का इस्तेमाल नई सड़क के निर्माण में होगा. इससे निर्माण लागत में तीस फीसद की कटौती होगी. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह घोषणा  रिठाला विधानसभा क्षेत्र के रोहिणी सेक्टर 5, 6,11 16, 17 के अंतर्गत आने वाली 9, 13, 24 व 30 मीटर सड़कों के निर्माण कार्य के शुभारंभ के दौरान कहीं. उन्होंने कहा, यह तकनीक पहले भी थी, लेकिन भ्रष्टाचार करने के लिए इसका इस्तेमाल नहीं होता था. नई तकनीक से सड़क निर्माण के बाद लोगों के घर नीचे होने और सड़क उपर होने की समस्या से भी निजाद मिल जाएगी. 

पांच माह में बन जाएंगी सड़कें
सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा मुझे बेहद खुशी है आपकी इतनी सड़कें एक साथ बन रही है. यह सड़कें कई साल से बनी नहीं थी. लोगों को तकलीफ होती थी.13 किलोमीटर सड़क को पांच माह में बना दिया जाएगा. मेरी कोशिश होगी कि सड़कें एक दिन पहले बन जाए. मैं खुद नजर रखूंगा.

पुरानी तकनीक के कारण लोगों ने सड़क बनाने से कर दिया था इंकार: सीएम
 सीएम ने कहा कुछ दिनों पहले मैं एक कालोनी में गया था. मैंने लोगों से पूछा सड़क बनवा दूं. लोगों ने कहा नहीं, सड़क बनेगी तो वह मकान से उपर हो जाएगी. फिर सड़क का पानी घर में आ जाएगा. उसी दिन मैंने सोच लिया अब नई तकनीक से ही दिल्ली की सड़कें बनेंगी. 

अब पुरानी सड़क को तोड़ा जाएगा. उसे नई सड़क में इस्तेमाल किया जाएगा. तीस प्रतिशत पुराना मैटेरियल इस्तेमाल होगा. आपकी पुरानी टूटकर नई बन जाएगी. इससे निर्माण लागत तीस फीसद कम हो जाएगी. दिल्ली में जगह जगह ऐसा कर रहे. पहले सुना करते थें, सड़क पर सड़क बन जाती है. जिससे घर नीचे सड़क उपर हो जाते थें.

अब दिल्ली में ऐसी सरकार है जो लोगों की सुनती है. गौर कर समाधान निकालती है. क्योंकि हमारे आपके बीच दूरी नहीं. मैं आम परिवार से हूं. मेरे नेता पहली बार विधायक बने. इस कारण हमें पता हे आम आदमी की समस्या क्या है.