close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ओमप्रकाश चौटाला की पार्टी INLD में टूट, पोते दुष्यंत ने बनाई पार्टी

दुष्यंत ने जींद पांडु पिंडारा में एक जनसभा का आयोजन कर शक्ति प्रदर्शन किया और यहीं पर पार्टी बनाने का ऐलान किया, जिसका नाम जननायक जनता पार्टी रखा गया है. 

ओमप्रकाश चौटाला की पार्टी INLD में टूट, पोते दुष्यंत ने बनाई पार्टी
दुष्यंंत चौटाला की मां नैना ने पार्टी का झंडा लांच किया.

जींद: हरियाणा विधानसभा में मुख्य विपक्षी पार्टी इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) में टूट हो गई है. इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला के पोते (पौत्र) दुष्यंत चौटाला ने रविवार को अपनी नई पार्टी बना ली. दुष्यंत ने जींद पांडु पिंडारा में एक जनसभा का आयोजन कर शक्ति प्रदर्शन किया और यहीं पर पार्टी बनाने का ऐलान किया, जिसका नाम जननायक जनता पार्टी रखा गया है. इस पार्टी के झंडे में दुष्यंत ने परदादा देवीलाल की तस्वीर लगाई गई है. पार्टी का झंडा 70 फीसदी हरा और 30 फीसदी पीला है. इनेलो का झंडा पूरी तरह हरा है. चौधरी देवीलाल को जननायक कहा जाता था, इसलिए पार्टी के नाम में जननायक शब्द लिया गया है.

शक्ति प्रदर्शन के दौरान मंच पर इनेलो विधायक अनूप धानक, राजदीप फोगाट, नैना चौटाला, बबिता फोगाट, महावीर फोगाट, अमीर चावला, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष महिला विंग शीला भयान भी मौजूद रहे. पूर्व विधायक निशान सिंह व रमेश खटक भी रैली में रहे. 

हरियाणा में इनेलो से निकाले गए दिग्विजय चौटाला ने कहा कि जींद में आयोजित समस्त हरियाणा सम्मेलन में सांसद दुष्यंत चौटाला ने ‘जननायक जनता पार्टी’ के नाम से नए क्षेत्रीय दल का आगाज किया है. दिग्विजय ने कहा कि नई पार्टी का शिक्षा, स्वास्थ्य और सुरक्षा पर फोकस रहेगा. उन्होंने कहा कि उनकी नई पार्टी और प्रदेश के सभी 10 लोकसभा और 90 विधानसभा सीटों पर चुनाव लडऩे की तैयारी कर रही है.

नई पार्टी के साथ खड़े इनैलो विधायकों नैना चौटाला और अन्य के विधानसभा से इस्तीफा देने के बारे में पूछने पर दिग्विजय ने कहा कि इन लोगों को पार्टी ने नहीं, जनता ने विधायक चुना है. इसलिए इस्तीफे का सवाल ही पैदा नहीं होता. वैसे भी जिन विधायकों को पार्टी से निकाल दिया जाता है, वह किसी दूसरे दल में बिना किसी कानूनी दिक्कत के शामिल हो सकते हैं. 

उल्लेखनीय है कि रैली स्थल पर 100 एकड़ में लोगों के बैठने के लिए कारपैट बिछाया गया था. पार्किंग समेत यहां 500 एकड़ जमीन है.

इस वजह से हुई इनेलो में टूट
आईएनएलडी ने अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था, जिसके बाद चौटाला परिवार में दरार पड़ गई. अजय चौटाला के बेटे दुष्यंत और दिग्विजय ने अपनी पार्टी बनाने का फैसला कर लिया. वहीं अभय चौटाला ने इनेलो की कमान संभाल ली. मालूम हो कि इनेलो के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला शिक्षक भर्ती मामले में जेल में सजा काट रहे हैं.