Breaking News
  • जम्मू-कश्मीर के पुलवामा के त्राल में 3 आतंकवादी मारे गए, सेना का सर्च ऑपरेशन जारी
  • चीन में कोरोना वायरस से 2000 लोगों की हुई मौत

दिल्ली: नए साल का जश्न मनाने इंडिया गेट पर उमड़े 75 हजार से ज्यादा लोग

पुलिस ने कहा,‘इंडिया गेट, दिल्ली चिड़ियाघर, हनुमान मंदिर, आईएसबीटी के समीप, कालकाजी मंदिर, मंदिर मार्ग पर बिडला मंदिर, गुरुद्वारा बंगला साहिब, गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब जैसे स्थानों पर यातायात बाधित रहा.

दिल्ली: नए साल का जश्न मनाने इंडिया गेट पर उमड़े 75 हजार से ज्यादा लोग
पुलिस ने सोमवार को पर्यटकों को इंडिया गेट पर पार्किंग की जगह की कमी के कारण जश्न मनाने के वास्ते बाहर निकलने के लिए सार्वजनिक परिवहन का इस्तेमाल करने की सलाह दी थी. (फोटो साभार - PTI)

नई दिल्ली: दिल्ली में कड़ाके की ठंड और गंभीर वायु प्रदूषण से बेपरहवाह हजारों लोग मंगलवार को रेस्त्रां, पबों, मॉल तथा इंडिया गेट और कनॉट प्लेस जैसी जगहों पर नववर्ष का जश्न मनाने के लिए उमड़े. इस मौके पर किसी अप्रिय घटना से बचने के लिए पुलिस भी मुस्तैद रही.

साकेत सेलेक्ट सिटी वॉक, नेहरू प्लेस, खान मार्केट, राजौरी गार्डन और कनॉट प्लेस जैसे बड़े बाजारों और पार्टी के लोकप्रिय स्थलों पर भारी भीड़ देखने को मिली. इससे शहर के आसपास सड़कों पर जाम लग गया और यातायात की गति भी मंद हो गई. सड़कों पर खड़े किए वाहनों से परेशानी और बढ़ गई.

इंडिया गेट के आसपास लगा जाम
पुलिस ने बताया कि करीब 75,000 से 80,000 लोग इंडिया गेट पर उमड़ पड़े जिससे इलाके के आसपास जाम लग गया. संयुक्त पुलिस आयुक्त (यातायात) आलोक कुमार ने बताया कि इंडिया गेट की ओर जाने वाली बसों का मार्ग परिवर्तित कर दिया गया ताकि स्थिति को नियंत्रण में लाया जा सके.

कुमार ने कहा,‘इंडिया गेट, दिल्ली चिड़ियाघर, हनुमान मंदिर, आईएसबीटी के समीप, कालकाजी मंदिर, मंदिर मार्ग पर बिडला मंदिर, गुरुद्वारा बंगला साहिब, गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब जैसे स्थानों पर यातायात बाधित रहा. चिड़ियाघर की ओर जाने वाले रिंग रोड को दोपहर को पैदल यात्रियों की अत्यधिक संख्या के कारण थोड़ी देर के लिए बंद कर दिया गया.’

पुलिस ने सोमवार को पर्यटकों को इंडिया गेट पर पार्किंग की जगह की कमी के कारण जश्न मनाने के वास्ते बाहर निकलने के लिए सार्वजनिक परिवहन का इस्तेमाल करने की सलाह दी थी.

भारी भीड़ के चलते चार स्टेशनों को बंद किया गया
भारी भीड़ के चलते दिल्ली मेट्रो को चार स्टेशनों - केंद्रीय सचिवालय, उद्योग भवन, मंडी हाऊस और प्रगति मैदान - पर निकास तत्काल प्रभाव से बंद करने पड़े.एक अधिकारी ने बताया,‘दिल्ली पुलिस से मिले निर्देशों के मुताबिक भीड़ उमड़ने के चलते चार स्टेशनों - केंद्रीय सचिवालय, उद्योग भवन, मंडी हाऊस और प्रगति मैदान - पर निकास तत्काल प्रभाव से बंद कर दिए गए हैं.’ 

यातायात में फंसी बीएससी छात्रा मयूरी शर्मा को आठ किलोमीटर की दूरी तय करने में डेढ़ घंटे से ज्यादा का वक्त लगा. उन्होंने कहा,‘यातायात बहुत खराब था और ऐसा लगा जैसे दिल्ली के सभी लोग सड़कों पर उमड़ आए हो और नववर्ष का जश्न मनाने मध्य दिल्ली की ओर बढ़ रहे हो.’

न्यूनतम तापमान सात डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जिसके कारण बड़ी संख्या में लोग होटलों, मॉल, रेस्त्रां, पबों और फार्महाउसों में उमड़े. हालांकि शहर में प्रदूषण का स्तर ‘बेहद खराब’ और ‘गंभीर’ श्रेणी के बीच रहा.

भीड़भाड़ वाले स्थानों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई
नववर्ष का सुचारू जश्न मनाने के वास्ते मुख्य बाजारों और भीड़भाड़ वाले स्थानों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई. पैदल यात्रियों के लिए यातायात के विशेष इंतजाम किए गए. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि स्टंट बाइकरों और शराब पीकर गाड़ी चलाने वाले ड्राइवरों की जांच के लिए मध्य दिल्ली के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी गई.

अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली पुलिस ने नववर्ष की पूर्व संध्या पर शराब पीकर गाड़ी चलाने वाले 500 से अधिक ड्राइवरों को दंडित किया. मंगलवार सुबह तक कुल 509 चालान काटे गए.

(इनपुट - भाषा)