मुसाफिरों से खचाखच भरी मेट्रो जब अचानक हो गई गायब और...?

दिल्ली मेट्रो के एक रूट पर सोमवार को एक दिलचस्प घटना हुई। दरअसल ब्लू लाइन यानी वैशाली/नोएडा-द्वारका कॉरिडोर पर सोमवार सुबह अचानक ट्रैक से एक मेट्रो गायब हो गई। हालांकि बाद में कर्मचारियों ने मेट्रो को ढूंढने में कामयाब हासिल कर ली । खास बात यह भी रही कि ट्रैक से गायब हुई मेट्रो यात्रियों से भरी हुई थी।  

मुसाफिरों से खचाखच भरी मेट्रो जब अचानक हो गई गायब और...?

नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो के एक रूट पर सोमवार को एक दिलचस्प घटना हुई। दरअसल ब्लू लाइन यानी वैशाली/नोएडा-द्वारका कॉरिडोर पर सोमवार सुबह अचानक ट्रैक से एक मेट्रो गायब हो गई। हालांकि बाद में कर्मचारियों ने मेट्रो को ढूंढने में कामयाब हासिल कर ली । खास बात यह भी रही कि ट्रैक से गायब हुई मेट्रो यात्रियों से भरी हुई थी।  

दरअसल सोमवार को मेट्रो के इस रूट पर यह खराबी पीक आवर्स के दौरान हुई। यह तकनीकी खामी आधे घंटे तक रही जिसकी वजह से आरके (राम कृष्ण) आश्रम से द्वारका जानेवाली मेट्रो के लोकेशन का पता चल नहीं पा रहा था। अधिकारियों के मुताबिक ट्रैक सर्किट में तकनीकी खामी की वजह से ऐसा हुआ।

तकनीकी पहलुओं पर गौर करे तो सर्किट ड्रॉप होने से मेट्रो के लोकेशन का पता नहीं चल पाता है। डीएमआरसी के प्रवक्ता के मुताबिक यह समस्या सुबह साढ़े आठ बजे शुरू हुई और नौ बजे तक इसे दुरुस्त कर दिया गया था। लेकिन मेट्रो के कुछ यात्रियों के मुताबिक इस रूट पर करीब डेढ़ घंटे के बाद मेट्रो की फ्रीक्वेंसी सामान्य हो सकी। एक मेट्रो ट्रैन के लोकेशन को ट्रैक करने में इस दिक्कत की वजह से बाकी मेट्रो सेवाएं भी इस दौरान बाधित हुई। इस समस्या की वजह से आज मुसाफिरों को थोड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ा और वह अपने गंतव्य तक देर से पहुंचे।