close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: PM मोदी को याद आए मेजर सर्वानंद, कैप्‍टन हनीफुद्दीन, कैप्‍टन विक्रम बत्रा और 'दिल मांगे मोर'

पीएम मोदी ने कहा, करगिल में विजय भारत के वीर बेटे, बेटियों के अदम्य साहस की जीत थी. करगिल में विजय भारत के सामर्थ्य और संयम की जीत थी. करगिल में विजय भारत के संकल्पों की जीत थी. करगिल में विजय भारत के मर्यादा और अनुशासन की जीत थी.

VIDEO: PM मोदी को याद आए मेजर सर्वानंद, कैप्‍टन हनीफुद्दीन, कैप्‍टन विक्रम बत्रा और 'दिल मांगे मोर'

नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार शाम को दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में करगिल विजय दिवस समारोह को संबोधित किया. करगिल युद्ध के 20 साल पूरे होने के अवसर पर यह कार्यक्रम आयोजित किया गया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि करगिल विजयगाथा पीढ़ियों को प्रेरणा देती रहेगी.

पीएम मोदी ने कहा, करगिल में विजय भारत के वीर बेटे, बेटियों के अदम्य साहस की जीत थी. करगिल में विजय भारत के सामर्थ्य और संयम की जीत थी. करगिल में विजय भारत के संकल्पों की जीत थी. करगिल में विजय भारत के मर्यादा और अनुशासन की जीत थी.

अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कारगिल के वीर सपूतों को याद किया. उन्‍होंने कहा, कारगिल में अपना सब कुछ न्‍योछावर करने वाले सपूतों ने किसी एक जाति और धर्म के लिए कुर्बानी नहीं दी थी. उन्‍होंने कहा, तमिलनाडु के रहने वाले मेजर सर्वानंद, दिल्‍ली के रहने वाले कैप्‍टन हनीफुद्दीन और कैप्‍टन विक्रम बत्रा ने अपने आपको देश के लिए कुर्बान किया था. कैप्‍टन विक्रम बत्रा ने किसके लिए कहा था ये दिल मांगे मोर. ये उन्‍होंने पूरे देश मां भारती के लिए कहा था.

पीएम मोदी ने कहा, आज लड़ाइयां अंतरिक्ष तक पहुंच गई हैं और साइबर स्तर पर भी लड़ी जाती है। इसलिए सेना को आधुनिक बनाना हमारी प्राथमिकता है। जल, थल, नभ सभी जगह हमारी सेना अपने उच्चतम शिखर को प्राप्त करने का सामर्थ्य रखे और आधुनिक बने, ये हमारा प्रयास है.