close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अरविंद केजरीवाल समेत कई नेताओं को भेज रहा था धमकी भरा ई-मेल, पुलिस ने किया गिरफ्तार

आरोपी अपनी नौकरी से खुश नहीं था जिसके कारण लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए वह नेताओं को मेल भेज रहा था. 

अरविंद केजरीवाल समेत कई नेताओं को भेज रहा था धमकी भरा ई-मेल, पुलिस ने किया गिरफ्तार
(प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित कई नेताओं को धमकी भरा मेल भेजने के आरोप में एक शख्स को मुंबई से गिरफ्तार किया है. इसकी पहचान अभिषेक तिवारी के रूप में हुई है. पुलिस फिलहाल अभिषेक से पूछताछ कर रही है. 

मूल रूप से उत्तर प्रदेश (यूपी) उन्नाव का रहने वाला आरोपी मुम्बई में डिलिवरी ब्वॉय का काम करता है. वह अपनी नौकरी से खुश नहीं था जिसके कारण लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए वह नेताओं को मेल भेज रहा था. 

साइबर सेल के डीसीपी अन्वेश ने बताया कि दिल्ली के सीएम ऑफिस से पुलिस को शिकायत मिली थी कि कोई शख्स ईमेल भेजकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जान से मारने की धमकी दे रहा है. यह शिकायत मिलते ही पुलिस ने मामला दर्ज कर पुलिस जांच में जुट गई. 

पुलिस की तीन टीमों को लगाया गया
जांच के लिए एसीपी रमण लांबा की देखरेख में पुलिस की तीन टीमों को लगाया गया. पुलिस ने टेक्निकल सर्विलांस के माध्यम से आरोपी की तलाश शुरू की.. इसके लिए भेजे गए धमकी भरे मेल के अलावा उस मेल से जुड़े फोन नंबर को खंगाला गया. 

इसमें मेल भेजने वाले का तार मुंबई और कानपुर से जुड़ा मिला. बाद में पुलिस की टीम को मुंबई और कानपुर रवाना किया गया. उधर पुलिस की कार्रवाई शुरू होते ही आरोपी भाग गया.

पुलिस ने जब आरोपी द्वारा छोड़े गए डिजिटल सुराग की छानबीन की तो उसके मुंबई में होने का पता चला जिसके बाद पुलिस की टीम ने मुंबई के नालासोपारा से एक चाल (छोटा कमरा) से आरोपी अभिषेक तिवारी को धर दबोचा.

'फर्नीचर की डिलिवरी ब्वॉय का काम करता है आरोप'
पूछताछ में पता चला कि आरोपी फर्नीचर की डिलिवरी ब्वॉय का करता है. वह अपनी नौकरी और जीवन से खुश नहीं था. इसलिए वह जीवन में कुछ ऐसा करना चाहता था जिससे लोगों का ध्यान उसकी तरफ जाए. 

इसी मकसद से  उसने सबसे पहले जुलाई 2019 में मुबई के एक नेता को धमकी भरा इमेल भेजा था लेकिन इसपर कोई प्रतिक्रिया नहीं होने पर बाद में उसे बड़े नेताओं को इमेल भेजने का आइडिया आया. वहीं, आरोपी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवालके अलावा नई दिल्ली स्थित एक राष्ट्रीय राजनीतिक पार्टी के ऑफिस में बम धमका करने संबंधी मेल भेजा था.