हरियाणा: छह सरकारी स्कूलों पर छापेमारी, मिड-डे मील में पाया गया था सांप

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र फरीदाबाद में एक सरकारी स्कूल के मिड-डे मील में सांप पाया गया, जिसके बाद स्थिति का पता लगाने के लिये मुख्यमंत्री के उड़नदस्ते ने जिले के छह स्कूलों का निरीक्षण किया. उल्लेखनीय है कि जिले में एनआईटी के नंबर-2 क्षेत्र के सरकारी बालिका उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं को 11 मई को वितरित किये गये खाने में सांप पाया गया था. इसके बाद मुख्यमंत्री के उड़नदस्ते ने जिले के उंचा गांव, चंद्रावली, अहीरवाड और तिमांग रोड़ स्थित विद्यालयों में मिड-डे मील की जांच की.

हरियाणा: छह सरकारी स्कूलों पर छापेमारी, मिड-डे मील में पाया गया था सांप
मिड डे मील का खाना (खिचड़ी) खाते वक्त आठवीं क्लास के बच्चे ने सबसे पहले सांप के बच्चे को भोजन में देखा. (एएनआई फोटो)

फरीदाबाद (हरियाणा): राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र फरीदाबाद में एक सरकारी स्कूल के मिड-डे मील में सांप पाया गया, जिसके बाद स्थिति का पता लगाने के लिये मुख्यमंत्री के उड़नदस्ते ने जिले के छह स्कूलों का निरीक्षण किया. उल्लेखनीय है कि जिले में एनआईटी के नंबर-2 क्षेत्र के सरकारी बालिका उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं को 11 मई को वितरित किये गये खाने में सांप पाया गया था. इसके बाद मुख्यमंत्री के उड़नदस्ते ने जिले के उंचा गांव, चंद्रावली, अहीरवाड और तिमांग रोड़ स्थित विद्यालयों में मिड-डे मील की जांच की.

पुलिस उपाधीक्षक दिनेश यादव ने बताया, ‘हमने विद्यालयों के वितरित किये जाने वाले खाने की खराब गुणवत्ता के बारे में संबंधित प्रधानाध्यापकों से लिखित में लिया है.’ मुख्यमंत्री के उड़नदस्ते में शामिल सहायक उप निरीक्षक राजेन्द्र सिंह ने कहा कि विद्यालय में छात्रों को वितरित किये जाने वाले चावल में गाजर के टुकड़े मिले हैं. उन्होंने बताया कि खाने की गुणवत्ता से संबंधित रपट मुख्यमंत्री को भेज दी गयी है.

हरियाणा: मिड डे मील खाने में निकला सांप

हरियाणा के फरीदाबाद के एनआइटी-2 स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के मिड-डे मील में गुरुवार (11 मई) को कीड़ा निकला. जिला शिक्षा अधिकारी डॉ. मनोज कौशिक फौरन मौके पर पहुंचीं और उन्होंने खाने को जांच के लिए चंडीगढ़ की प्रयोगशाला भिजवाया. वहीं एनआइटी-2 कोतवाली से सहायक सब इंस्पेक्टर वीरेंद्र कुमार ने भी स्कूल पहुंचकर मामले की जानकारी ली. हालांकि स्टाफ की तरफ से पुलिस को कोई शिकायत नहीं दी गई. कौशिक का कहना है कि स्कूल स्टाफ खाने में सांप बता रहा है, लेकिन यह जांच का विषय है. बच्चों को खाना पूरी सुरक्षित तरीके से परोसा जाता है.

मिड डे मील का खाना (खिचड़ी) खाते वक्त आठवीं क्लास के बच्चे ने सबसे पहले सांप के बच्चे को भोजन में देखा, जिसके बाद सभी को इस बारे में मालूम हुआ. हालांकि जब तक बच्चे ने सांप देखा तब तक चार से पांच बच्चे उस खिचड़ी को खा चुके थे. घटना की जानकारी जैसे ही स्कूल के प्रधानाचार्य को मिली उन्होंने तुरंत ही खाने को रुकवा दिया.