UPSC एग्जाम सेंटर लेट पहुंचने पर नहीं मिली एंट्री, स्टूडेंट ने किया सुसाइड

दिल्ली के राजेंद्र नगर इलाके में यूपीएससी की तैयारी कर रहे एक छात्र ने एग्जाम सेंटर लेट पहुंचने और परीक्षा नहीं दे पाने के कारण खौफनाक कदम उठाते हुए सुसाइड कर लिया. 

UPSC एग्जाम सेंटर लेट पहुंचने पर नहीं मिली एंट्री, स्टूडेंट ने किया सुसाइड
वरुण का यूपीएससी परीक्षा में ये पांचवा प्रयास था (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली (नीरज गौड़): दिल्ली के राजेंद्र नगर इलाके में यूपीएससी की तैयारी कर रहे एक छात्र ने एग्जाम सेंटर लेट पहुंचने और परीक्षा नहीं दे पाने के कारण खौफनाक कदम उठाते हुए सुसाइड कर लिया. जानकारी के अनुसार, रविवार शाम साढ़े पांच बजे राजेंद्र नगर थाने की पुलिस को जानकारी मिली थी कि एक स्टूडेंट ने अपने रूप में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. सूचना के आधार पर पुलिस की एक टीम अस्पताल पहुंची और छात्र के शव को अपने कब्जे में ले लिया.

मरने से पहले छोड़ा सुसाइड नोट
सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट के एडिशनल डीसीपी एंटो अल्फांसो के मुताबिक, मृतक छात्र की पहचान 27 साल के वरुण चंद्रन के रूप में हुई है. वो पिछले पांच-छह महीने से ओल्ड राजेंद्र नगर में एक मकान में किराए से रह रहा था. पुलिस को कमरे की तलाशी में एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें लिखा है 'मैं अपनी मर्जी से सुसाइड कर रहा हूं. एग्जाम सेंटर के नियम ठीक हैं लेकिन अच्छे काम के लिए थोड़ी ढिलाई होनी चाहिए'.

UPSC: राहुल गांधी ने PM पर साधा निशाना, छात्रों से कहा- आपका भविष्य खतरे में है

गलत सेंटर पर पहुंचने से हुई देरी
एडिशनल डीसीपी ने बताया की वरुण का रविवार को यूपीएससी का एग्जाम था जिसका सेंटर पहाड़गंज में था. लेकिन वो गलती से दूसरे सेंटर चला गया. वो जब तक सही सेंटर पहुंचा तब तक एग्जाम सेंटर में एंटर होने का समय निकल चुका था. उसे अंदर जाने की इजाजत नहीं दी गई. हताश होकर वो अपने मकान वापस लौटा और सुसाइड नोट लिखने के बाद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. शाम को उसके दोस्तों ने कॉल किया तो कोई रिस्पांस नहीं मिला. इस पर कुछ दोस्त वरुण के कमरे पर पहुंचे जहां उन्हें वो फंदे से झूलता हुआ मिला.

बेटे को पढ़ने भेजा था, वापस ले जा रहे उसकी लाश
युवकों ने इसकी जानकारी मकान मालिक को दी, जिन्होंने पुलिस को सूचित किया. इस बीच वरुण को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया. पुलिस ने घटना की युवक के परिवार को जानकारी दी. उन्होंने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया, जिसे बाद में परिजनों को सौंप दिया गया. परिवार मूल रूप से कर्नाटक का रहने वाला है.

सीबीएसई के 10वीं के रिजल्‍ट आने के बाद दिल्‍ली में तीन छात्रों ने की आत्‍महत्‍या

बताया जा रहा है कि वरुण इससे पहले भी यूपीएससी की परीक्षा दे चुका था, लेकिन वो पास नहीं हो पाया. ये उसका पांचवा प्रयास था. वहीं उसके दोस्तों का कहना है कि इस कदम ने उन्हें सदमे में डाल दिया है. उन्होंने कहा कि वरुण काफी अच्छे नेचर का लड़का था और काफी होशियार भी था.