close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली सरकार और मॉस्को प्रकाशन के बीच हुआ ‘ट्विन सिटी’ समझौता

मॉस्को सरकार के मंत्री सरजेई चेरेमिन ने कहा कि दोनों शहर परिवहन, पर्यटन, स्वास्थ्य सहित अन्य क्षेत्रों के प्रबंधन में सक्रिय रूप से सहयोग करेंगे.

दिल्ली सरकार और मॉस्को प्रकाशन के बीच हुआ ‘ट्विन सिटी’ समझौता
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया और मॉस्को सरकार के मंत्री सरजेई चेरेमिन ने शिक्षा, संस्कृति, स्वास्थ्य, ई-गर्वनेंस, पर्यटन और परिवहन क्षेत्रों में तीन साल के लिए मिलकर काम करने के समझौते पर हस्ताक्षर किए. (फोटो साभार: @msisodia)

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को शिक्षा, पर्यटन, परिवहन और पर्यावरण सहित विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग के लिए मॉस्को प्रशासन के साथ ‘ट्विन सिटी’ समझौता किया. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया और मॉस्को सरकार के मंत्री सरजेई चेरेमिन ने शिक्षा, संस्कृति, स्वास्थ्य, ई-गर्वनेंस, पर्यटन और परिवहन क्षेत्रों में तीन साल के लिए मिलकर काम करने के समझौते पर हस्ताक्षर किए.

सिसौदिया ने इस मौके पर कहा कि इस समझौते से दोनों शहरों के बीच संबंध और मजबूत होंगे. उधर, चेरेमिन ने कहा कि दिल्ली और मॉस्को ‘करीबी सहयोगी’ हैं. उन्होंने कहा, ‘भारत और रूस कई दशकों के लिए रणनीतिक सहयोगी हैं.’

चेरेमिन ने कहा,‘हमने इस मजबूत संबंध के विकास के लिए बहुत मेहनत की है.’ उन्होंने कहा कि दोनों शहर परिवहन, पर्यटन, स्वास्थ्य सहित अन्य क्षेत्रों के प्रबंधन में सक्रिय रूप से सहयोग करेंगे.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच बातचीत के बाद दोनों देशों ने आठ समझौतों पर हस्ताक्षर किए जिनमें अंतरिक्ष, परमाणु ऊर्जा के शांतिपूर्ण उपयोग, रेलवे समेत कई अन्य क्षेत्रों में सहयोग के विषय शामिल हैं। प्रधानमंत्री मोदी और रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने 19वें भारत रूस वार्षिक द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन के दौरान मुलाकात की और अनेक द्विपक्षीय, क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति पुतिन के बीच वार्ता के बाद भारत, रूस ने पांच अरब डॉलर के एस-400 वायु रक्षा प्रणाली समझौते पर हस्ताक्षर किए।

बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संयुक्त संवाददाता संबोधन में कहा कि भारत- रूस मैत्री अपने आप में अनूठी है। इस विशिष्ट रिश्ते के लिए राष्ट्रपति पुतिन की प्रतिबद्धता से इन संबंधों को और भी ऊर्जा मिलेगी।

उन्होंने कहा, ‘हमारे बीच प्रगाढ़ मैत्री और सुदृढ़ होगी तथा हमारी विशेष और विशिष्ट सामरिक गठजोड़ को नई बुलंदियां प्राप्त होंगी। पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति पुतिन के साथ वार्ता ने भारत-रूस के बीच रणनीतिक साझेदारी को नई दिशा दी है ।

वहीं, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि आतंकवाद एवं मादक पदार्थों की तस्करी के खतरे से निपटने के लिए भारत के साथ सहयोग बढ़ाने पर सहमति जताई है।