close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उन्नाव केसः 8 अन्य आरोपियों की तीस हजारी कोर्ट में पेशी, पीड़िता के वकील को एम्स लाया जाएगा

सोमवार शाम को उन्नाव रेप पीड़िता को एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाया गया था. अब पीड़िता का इलाज दिल्ली के एम्स में होगा.

उन्नाव केसः 8 अन्य आरोपियों की तीस हजारी कोर्ट में पेशी, पीड़िता के वकील को एम्स लाया जाएगा
फाइल फोटो

नई दिल्लीः उन्नाव मामले में 8 अन्य आरोपियों को आज दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में पेश किया जाएगा. इससे पहले आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और शशि सिंह को पेश किया गया था. जिन्हें कोर्ट ने 7 अगस्त तक के लिए तिहाड़ जेल भेज दिया. 7 अगस्त को आरोप तय करने को लेकर तीस हजारी कोर्ट में बहस होगी. फिलहाल, केस से जुड़े कागजात पूरी तरीके से कोर्ट के पास नहीं पहुंचे है. इसके अलावा आज सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर पीड़िता के वकील को एयरलिफ्ट कर दिल्ली AIIMS लाया जाएगा.

बता दें कि सोमवार शाम को उन्नाव रेप पीड़िता को एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाया गया था. अब पीड़िता का इलाज दिल्ली के एम्स में होगा. सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी करते हुए कहा कि पीड़िता और उनके एडवोकेट को को एयर एंबुलेंस से एयरलिफ्ट करके तुरंत दिल्ली एम्स में भर्ती कराए.

इसी क्रम में पीड़िता को सोमवार को लगभग शाम 6:00 बजे ट्रॉमा सेंटर से एयरपोर्ट के लिए एंबुलेंस से रवाना किया गया. दिल्ली पुलिस ने एयरपोर्ट से एम्स ट्रॉमा अस्पताल तक ग्रीन कॉरिडोर बनाया. ग्रीन कॉरिडोर बनाकर पीड़ि‍ता को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाने की योजना बनाई गई. ग्रीन कॉरिडोर के लिए तिमाइया मार्ग, परेड रोड, गुरुग्राम रोड, धौलाकुआं से होते हुए मोतीबाग, नौरोजी नगर फ्लाईओवर से होते हुए झंडू सिंह मार्ग से एम्स ट्रॉमा सेंटर तक लाया गया.

गौरतलब है कि उन्नाव रेप पीड़िता अपने चाचा से मिलने रायबरेली जेल जाते वक्त हादसे का शिकार हो गई थी, जिसके बाद वह और उनके एडवोकेट गंभीर रूप से घायल होने के कारण उनको लखनऊ के ट्रामा सेंटर में भर्ती करवाया गया था. 

पीड़िता को एयरलिफ्ट करवाने से पहले की गई कई तैयारियां
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पीड़िता को दिल्ली भेजने के लिए ट्रॉमा सेंटर की ओर से कई तैयारियां करनी पड़ी. ट्रॉमा सेंटर के डॉक्टरों द्वारा पहले एक मीटिंग बुलाकर सभी चीजें जांची गई. एयरलिफ्ट के समय कोई परेशानी ना हो इसके लिए डॉक्टरों की टीम ने पीड़िता की एक बार फिर से जांच की. उसके बाद पीड़िता को दिल्ली भेजने के लिए तैयारी शुरू की गई. एयरलिफ्ट के लिए दिल्ली से एयर एम्बुलेंस लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पहुंचा था.  

33 किलोमीटर का ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया
पीड़िता की एंबुलेंस को ट्रैफिक जाम से बचाने के लिए लखनऊ की पुलिस ने 33 किलोमीटर का एयरपोर्ट तक ग्रीन कॉरिडोर तैयार किया, जिसमें पीड़िता की एंबुलेंस जाम में ना फंसे उसके लिए पुलिस के ज्यादातर जवानों को ग्रीन कॉरिडोर में तैनात किया गया.

10 में से 9 लोगों को सीबीआई ने पूछताछ के लिए बुलाया
सीबीआई ने आज उन्नाव रेप पीड़िता हादसे के मामले में 10 नामजद व्यक्तियों में से 9 लोगों को अपने लखनऊ हेड क्वार्टर पूछताछ के लिए बुलाया था. हादसे से जुड़े मामले में नामजद व्यक्तियों को अपना बयान दर्ज करवाने सीबीआई ने नोटिस भेजकर सभी को अपने लखनऊ कार्यालय बयान दर्ज करवाने बुलाया था, जिसमें कुलदीप का भाई मनोज सिंह सेंगर, विनोद मिश्र, हरिपाल सिंह, कोमल सिंह, अरुण सिंह, ज्ञानेंद्र सिंह, रिंकू सिंह, अवधेश सिंह आज लखनऊ तलब किया गया.