दिल्ली में पानी-सीवर कनेक्शन चार्ज माफ, CM केजरीवाल ने किया ऐलान

मुख्यमंत्री ने दिल्ली के लाखों परिवार के लिए बड़ी राहत का ऐलान किया. अब दिल्ली में रह रहे लोगों को पानी और सीवर कनेक्शन के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर और डेवलपमेंट चार्ज नहीं देना होगा. 

दिल्ली में पानी-सीवर कनेक्शन चार्ज माफ, CM केजरीवाल ने किया ऐलान
सीएम केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर की घोषणा.

नई दिल्ली: दिल्ली की जनता को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से राहत मिलने का सिलसिला लगातार जारी है. शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने दिल्ली के लाखों परिवार के लिए बड़ी राहत का ऐलान किया. अब दिल्ली में रह रहे लोगों को पानी और सीवर कनेक्शन के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर और डेवलपमेंट चार्ज नहीं देना होगा. इस पर प्लाट साइज के हिसाब से लोगों को एक लाख रुपये से अधिक खर्च करने पड़ते थे. अब दिल्ली में सभी को महज 2310 रुपये खर्च कर पानी और सीवर का कनेक्शन मिल जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पर दिल्ली जल बोर्ड ने मुहर लगा दी है और जल्द ही नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा. इससे लोगों को 2310 रुपये देकर पानी व सीवर कनेक्शन मिलने लगेगा. 

मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे दिल्ली के अंदर अनअकाउंटेड वाटर मांग में भी कमी आएगी. साथ ही लोगों को अवैध कनेक्शन और उससे होने वाली परेशानी से दो-चार नहीं होना पड़ेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि पानी व सीवर के इंफ्रास्ट्रक्चर को विकसित करना सरकार का काम है. लोग टैक्स देते हैं, इस कारण इंफ्रास्ट्रक्चर पर उनका हक है. यह काम सरकार बगैर इंफ्रास्ट्रक्चर चार्ज लिए करेगी.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस कदम से दिल्ली में पानी और सीवर में बड़ा रिफार्म आएगा. अभी लोग पानी और सीवर की नई पाइप लाइन डलने के बाद भी कनेक्शन लेने से बचते थे. अब इंफ्रास्ट्रक्चर और डेवलपमेंट चार्ज माफ होने के बाद कनेक्शन लेने वालों की संख्या में तेजी आएगी. कनेक्शन न लेने का कारण डेवलपमेंट और इंफ्रास्ट्रक्चर चार्ज ज्यादा था. इससे बचने के लिए लोग अवैध कनेक्शन डाल लेते थे. इससे दिल्ली जल बोर्ड पर अनकाउंटेड वाटर का दबाव भी ज्यादा था. अब इंफ्रास्ट्रक्चर और डेवलपमेंट चार्ज माफ होने से लोग कनेक्शन लेंगे और जल बोर्ड पर अनकाउंटेड वाटर का दबाव कम होगा.

'इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित करना सरकार का काम'
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि नई पाइप लाइन लगाने, नए वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाने, पंपिंग स्टेशन लगाने का काम सरकार करेगी. लोग टैक्स देते हैं. इस कारण इंफ्रास्ट्रक्चर पर अलग से चार्ज देने की जरूरत नहीं है. यह काम सरकार का है. सरकार यह काम करती रही है और करती रहेगी. अब इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए लोगों से रिकवरी नहीं करेंगे. अब पानी और सीवर के लिए सभी को 2310 रुपये ही देना पड़ेगा, प्लाट का साइज चाहे कुछ भी हो. सीएम ने कहा पहले दो सौ वर्गमीटर के प्लाट पर सीवर और पानी के लिए 114110 रुपये देने होते थे. जबकि 300 वर्गमीटर के प्लाट के लिए 124100 रुपये देने पड़ते थे. यह बहुत ज्यादा था. इतना किसी के लिए देना असंभव है. इस कारण अब डेवलपमेंट और इंफ्रास्ट्रकचर चार्ज खत्म कर दिया गया है.

प्लाट साइज       डेवलपमेंट चार्ज/इंफ्रास्ट्रक्चर चार्ज

50                   5000

100               10000

200              20000
55080 (LIG), 91800 (MIG)

300              30000 55080 (एलआईजी), 91800 (MIG)    

अब लगेगा सिर्फ यह चार्ज  - 2310 रुपये 

फार्म - 10 रुपये

ओपनिंग फी - 250

पानी एडवांस चार्ज - 1000

सिक्योरिटी - 250 

आरआर चार्ज - 800 

कुल -   2310

केजरीवाल सरकार में 1047 किलोमीटर  बदली पानी की पाइप लाइन

वर्ष          पाइप लाइन 

2015      - 133 किलोमीटर 

2015-16   - 158 किलोमीटर 

2016-17   - 211 किलोमीटर 

2017-18   - 263 किलोमीटर 

2018-19    - 282 किलोमीटर 

कुल       - 1047 किलोमीटर

केजरीवाल के मुख्यमंत्री बनने के बाद इतनी पुरानी सीवर लाइन बदली

2015-16 -   44

2016-17 -   57

2017-18-    87

2018-19 -   123

2019-20 (अब तक)  - 61 

कुल - 372 किलोमीटर 

केजरीवाल के मुख्यमंत्री बनने के बाद इतनी नई सीवर लाइन डाली गई 

2015-16 -   266

2016-17 -   132

2017-18-    248

2018-19 -   304

2019-20 (अब तक)  - 212 

कुल - 1162 किलोमीटर