रोहित शेखर हत्याकांड: किसी 'तीसरे' को लेकर हुआ पति-पत्नी में विवाद, मौत की थी ये 3 वजह

उत्तराखंड के पूर्व सीएम एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी हत्या की गुत्थी को आखिरकार क्राइम ब्रांच ने सुलझा ही लिया और कत्ल के आरोप में रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा को गिरफ्तार कर लिया. 

रोहित शेखर हत्याकांड: किसी 'तीसरे' को लेकर हुआ पति-पत्नी में विवाद, मौत की थी ये 3 वजह
.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: उत्तराखंड के पूर्व सीएम एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी हत्या की गुत्थी को आखिरकार क्राइम ब्रांच ने सुलझा ही लिया और कत्ल के आरोप में रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा को गिरफ्तार कर लिया. हालांकि शुरू से ही क्राइम ब्रांच को रोहित की पत्नी अपूर्वा पर पूरा शक था लेकिन गिरफ्तारी से पहले क्राइम ब्रांच एक एक कड़ी को जोड़कर सबूत जुटाने में लगी थी. कई राउंड की पूछताछ के बाद अपूर्वा ने क्राइम ब्रांच के सामने कबूला कि उसी ने अकेले अपने पति रोहित का गला, नाक मुंह दबाकर हत्या कर दी. इस हत्या की वजह और भी हैरान कर देने वाली है.

मैटिमोनियल साइट के जरिए शादी हुई थी
असल में अपूर्वा और रोहित तिवारी की एक साल पहले मैटिमोनियल साइट के जरिए शादी हुई थी लेकिन शुरू से ही इनके शादीशुदा जीवन ठीक नहीं चल रहा था, दोनों अलग अलग कमरे में सोते थे और जल्द तलाक भी लेने वाले थे. खराब रिश्तों के साथ इस नफरत के पीछे शक भी एक अहम कड़ी थी. राजीव रंजन, एडिशनल कमिश्नर, क्राइम ब्रांच के अनुसार, असल में अपूर्वा को अपने पति पर शुरू से शक रहता था. 10 अप्रैल को रोहित अपने परिवार के साथ उत्तराखंड में वोट डालने गया था और रात करीब 10 बजे के आसपास वापस दिल्ली अपने घर डिफेन्स कॉलोनी लौटा.

पूछताछ में अपूर्वा ने कबूला कि वो रात को रोहित के कमरे में गई 
सूत्रों के मुताबिक रोहित उत्तराखंड से वापस लौटते हुए अलग गाड़ी में अपनी रिश्तेदार महिला के साथ था और पूरे रास्ते दोनों शराब पीते हुए आए और इस बात से अपूर्वा और भी ज्यादा आगबबूला हो गई. घर लौटने के बाद रोहित ने अपूर्वा, अपनी मां और रिश्तेदारों के साथ खाना खाया और फिर सब सोने चले गए.

पूछताछ में अपूर्वा ने कबूला कि वो रात को रोहित के कमरे में गई और महिला रिश्तेदार के साथ शराब पीने को लेकर दोनों में काफी कहासुनी हुई और अपूर्वा ने रोहित का गला और नाक मुंह दबाकर रोहित की हत्या कर दी, रोहित शराब के नशे में था लिहाजा वो खुद को बचा भी नहीं पाया.

अपूर्वा की गाड़ी में रोहित को अस्पताल ले जाने की कोशिश हुई
अगले दिन यानि 16 अप्रैल को शाम 4 बजे के आसपास घर के नौकर भोला ने देखा कि रोहित अपने कमरे में बेसुध पड़ा हुआ था और उसकी नाक से खून बह रहा था इसके बाद पहले अपूर्वा की गाड़ी में रोहित को अस्पताल ले जाने की कोशिश हुई लेकिन फिर एम्बुलेंस के आने पर रोहित की बॉडी को साकेत मैक्स अस्पताल ले जाया गया जहा उसे मृत घोषित कर दिया गया.

पुलिस को मैक्स अस्पताल से जानकारी दी है कि रोहित की मौत हो गई है
पुलिस को मैक्स अस्पताल से जानकारी दी है कि रोहित की मौत हो गई है, हालांकि घरवालों के ब्यान के आधार पर शुरुआत में लोकल पुलिस ने मौत की वजह हार्ट अटैक माना क्योंकि घरवालों ने किसी पर शक जाहिर नही किया था. अगले दिन 17 अप्रैल को एम्स अस्पताल में डॉक्टर्स के एक पैनल ने रोहित शेखर की बॉडी का पोस्टमोर्टम किया और अगले दिन पोस्टमोर्टम रिपोर्ट जब पुलिस को सौपी गई तो पुलिस के भी होश उड़ गए क्योकि पोस्टमोर्टम रिपोर्ट के मुताबिक रोहित की हत्या की गई थी और दम और गला घोटकर हत्या की थी. 

पुलिस ने आईपीसी की धारा 302 का मामला दर्ज किया
पोस्टमोर्टम रिपोर्ट के मुताबिक रोहित की मौत 15 अप्रैल की रात खाना खाने के दो घंटे बाद यानि डेढ़ बजे के आसपास हो गई थी. पोस्टमोर्टम रिपोर्ट के बाद लोकल पुलिस ने आईपीसी की धारा 302 यानि हत्या का मामला दर्ज किया और केस क्योकि हाईप्रोफाइल था इसलिए केस की जांच क्राइम ब्रांच को सौप दी गई.

शुरुआत में क्राइम ब्रांच को अपूर्वा, घर के नौकर, ड्राईवर पर शक था क्योकि उन्हें सीसीटीवी फुटेज में देखा गया था लेकिन क्राइम ब्रांच की तीन टीम ने जब अलग अलग रोहित की पत्नी, नौकर और ड्राईवर से पूछताछ की तो साफ़ हो गया कि इसके पीछे सिर्फ रोहित की पत्नी अपूर्वा का हाथ है. 

खराब संबंध और शक के अलावा इस हत्या के पीछे एक वजह प्रॉपर्टी भी है क्योकि रोहित तिवारी की पत्नी का इस घर में कोई हिस्सा नही था ये प्रॉपर्टी रोहित और उसके कजन के हिस्से में थी, आज कोर्ट में पेश करके अपूर्वा को पुलिस कस्टडी में लिया जाएगा और इन सभी ऐंगल्स पर पूछताछ की जाएगी. क्राइम ब्रांच ने घर के नौकरों, ड्राईवर, चचेरे भाई समेत बाकि सभी को क्लीनचिट दे दी है और रोहित की पत्नी अपूर्वा को कत्ल के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है.