close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

किसी ने मुझसे हटने को नहीं कहा, चुनाव नहीं लड़ने का फैसला मेरा था : शीला दीक्षित

दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए अजय माकन को कांग्रेस का चेहरा बनाये जाने के पार्टी के कदम का स्वागत करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा कि किसी ने उनसे हटने को नहीं कहा और उन्होंने खुद पार्टी नेतृत्व को चुनावी राजनीति से दूरी बनाने के अपने फैसले के बारे में बता दिया था।

किसी ने मुझसे हटने को नहीं कहा, चुनाव नहीं लड़ने का फैसला मेरा था : शीला दीक्षित

नई दिल्ली : दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए अजय माकन को कांग्रेस का चेहरा बनाये जाने के पार्टी के कदम का स्वागत करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा कि किसी ने उनसे हटने को नहीं कहा और उन्होंने खुद पार्टी नेतृत्व को चुनावी राजनीति से दूरी बनाने के अपने फैसले के बारे में बता दिया था।

माकन को अनुभवी प्रशासक करार देते हुए उन्होंने उम्मीद जताई कि वह सात फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव में जनता का समर्थन हासिल करने में पार्टी की मदद करेंगे। माकन और दीक्षित के बीच सौहार्दपूर्ण रिश्ते नहीं माने जाते। माकन ने कल कहा था कि हर शख्स के यश का एक समय होता है जिसका कभी न कभी अंत भी आता है। इस बयान के संदर्भ में दीक्षित ने कहा कि उन्होंने ही कांग्रेस नेतृत्व को फिर से चुनाव नहीं लड़ने के अपने फैसले से अवगत कराया।

उन्होंने कहा, ‘कोई इस बात से इनकार नहीं कर सकता कि शीला दीक्षित सरकार दिल्ली में 15 साल तक सत्ता में रही। कोई इस बात से भी इनकार नहीं कर सकता कि केरल से लौटने के तत्काल बाद मैंने नेतृत्व को फिर से चुनावी राजनीति में नहीं आने के अपने फैसले से अवगत करा दिया था। किसी ने मुझसे ऐसा करने को नहीं कहा था।’ क्या माकन चुनाव में कांग्रेस को सफलता दिला पाएंगे, इस सवाल पर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि मेरी पार्टी चुनाव में बेहतर करेगी। समय ही बताएगा कि वह सफल साबित होंगे या नहीं।’