पंचकूला : नौकरी दिलाने के बहाने महिला को चार दिन बंधक बनाकर 40 लोगों ने किया रेप

महिला को नौकरी दिलाने के बहाने पंचकूला के एक रेस्‍ट हाउस में बनाया गया था बंधक.

पंचकूला : नौकरी दिलाने के बहाने महिला को चार दिन बंधक बनाकर 40 लोगों ने किया रेप
चंडीगढ़ में मामला दर्जकर पंचकूला ट्रांसफर किया गया. (प्रतीकात्‍मक फोटो)

पंचकूला, कुलवीर दीवान : हरियाणा के पंचकूला में महिला के साथ दरिंदगी का शर्मनाक मामला सामने आया है. यहां के मोरनी में एक 22 साल की महिला को रेस्‍ट हाउस में चार दिनों तक बंधक बनाकर रखा गया. इस दौरान उसके साथ कई बार रेप की घटना को अंजाम दिया गया. महिला किसी तरह बदमाशों के चंगुल से निकलकर चार दिन बाद अपने पति के पास पहुंची.

पुलिस से नहीं मिली मदद
महिला का आरोप है कि पहले उसने पंचकूला पुलिस से मामले में मदद मांगी लेकिन वहां की पुलिस से मदद ना मिलने के बाद वह चंडीगढ़ पहुंची. चंडीगढ़ में मामला दर्ज कर पंचकूला पुलिस को सौंपा गया है. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है. वहीं मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में पंचकूला पुलिस के चार कर्मियों को भी सस्‍पेंड कर दिय गया है. महिला के अनुसार चार दिन में उसके साथ करीब 40 लोगों ने दुष्कर्म किया है.

चंडीगढ़ में हुआ मामला दर्ज
महिला और उसके पति ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि सन्नी नाम का एक व्यक्ति महिला को रेस्ट हाउस में काम करने के बहाने घर से लेकर गया था. यहां पर महिला को चार दिन तक नशे की हालत में बंधक बनाकर रखा गया. वहां हर रोज दर्जन भर लोग महिला से रेप करते रहे. महिला के पति के अनुसार उसकी पत्नी से जब उसकी बात सही ढंग से नहीं हो रही थी तो उसको शक हुआ. जब पति ने रेस्ट हाउस मालिक से बात की तो उसको भी धमकी दी गई. इसके बाद महिला को बस में बैठाकर पंचकूला भेज दिया गया. महिला के पति ने आरोप लगाया है कि उन्होंने पहले हरियाणा की पंचकूला पुलिस से मदद मांगी मगर पंचकूला पुलिस के मदद ना करने पर उन्होंने चंडीगढ़ पुलिस के पास जाकर मामला दर्ज करवाया.

4 पुलिसकर्मी सस्‍पेंड
चंडीगढ़ पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद मामला पंचकूला पुलिस को ट्रांसफर कर दिया है. इसके बाद पंचकूला पुलिस हरकत में आई. फिलहाल इस मामले में दो लोगों सुनील निवासी कुरुक्षेत्र और अवतार सिंह निवासी झांसी को गिरफ्तार किया गया है. जबकि एक व्यक्ति को राउंड उप करके उससे पूछताछ की जा रही है. पुलिस ने रेस्ट हाउस से DVR भी कब्जे में ली है जिसके आधार पर मामले की पूरी सच्‍चाई का पता लगाने में मदद मिलने की उम्मीद है. लापरवाही बरतने के मामले में पंचकूला पुलिस की एक महिला एएसआई और मोरनी पुलिस चौकी के इंचार्ज मांगे राम सहित कुल चार कर्मचारियों को सस्पेंड किया गया है. इस मामले में पंचकूला पुलिस अधिकारी अंशु शुक्ला की अध्यक्षता में एसआईटी का गठन करके मामले की जांच तेज कर दी है.