close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राफेल मामलाः सुप्रीम कोर्ट में प्रशांत भूषण ने लिखित में सौंपी दलीलें

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने राफेल मामले में दिए गए अपने पूर्व के फैसले के खिलाफ दाखिल यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी, प्रशांत भूषण आदि की पुनर्विचार याचिकाओं पर फैसला सुरक्षित रख लिया था. 

राफेल मामलाः सुप्रीम कोर्ट में प्रशांत भूषण ने लिखित में सौंपी दलीलें
फाइल फोटो

नई दिल्ली : राफेल मामले में याचिकाकर्ता प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट में लिखित दलीलें सौंपी है. जिसमें कहा गया है कि सौदे को सही ठहराने वाले फैसले का आधार सरकार से मिली गलत जानकारी है. केंद्र सरकार ने सौदे की प्रक्रिया, रिलायंस और दसॉल्ट में समझौते जैसी बातों पर गुमराह किया है और यह मामला भ्रष्टाचार का है एसे में CBI को केस दर्ज करने का निर्देश दिया जाए.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने राफेल मामले में दिए गए अपने पूर्व के फैसले के खिलाफ दाखिल यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी, प्रशांत भूषण आदि की पुनर्विचार याचिकाओं पर फैसला सुरक्षित रख लिया था. वहीं आप नेता संजय सिंह की पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई से इनकार कर दिया था. वहीं, राहुल गांधी के खिलाफ बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी की ओर से दायर अवमानना याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा लिया था.

क्या है पूरा मामला
गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने 14 दिसंबर को फ्रांस से 36 राफेल फाइटर प्लेन खरीद प्रक्रिया की जांच का आदेश देने से इनकार कर दिया था. इस आदेश के खिलाफ पूर्व वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी. सुप्रीम कोर्ट 10 अप्रैल दोबारा सुनवाई करने के लिए राजी हुआ था. तब मुख्‍य न्‍यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ ने लीक हुए दस्तावेजों को वैध माना था. हालांकि, सरकार ने दलील दी थी कि इन दस्तावेजों को खारिज किया जाना चाहिए.