पहचान बदल अस्पताल पहुंचे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया, गार्ड ने मारा डंडा; खुद सुनाई कहानी
X

पहचान बदल अस्पताल पहुंचे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया, गार्ड ने मारा डंडा; खुद सुनाई कहानी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya) ने बताया कि सफदरजंग अस्पताल में बेंच पर बैठने के दौरान एक गार्ड ने उन्हें डंडा मार दिया था.

पहचान बदल अस्पताल पहुंचे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया, गार्ड ने मारा डंडा; खुद सुनाई कहानी

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya) एक्शन में हैं और लगातार अधिकारियों के साथ समीक्षा करने के साथ ही अस्पतालों का दौरा कर व्यवस्थाओं का निरीक्षण कर रहे हैं. मनसुख मांडविया हाल ही में आम मरीज की तरह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल (Safdarjung Hospital) पहुंचे थे, जब उनके साथ अजीब घटना घटी.

गार्ड ने मारा था केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को डंडा

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya) ने बताया कि सफदरजंग अस्पताल में बेंच पर बैठने के दौरान एक गार्ड ने उन्हें डंडा मार दिया था. मनसुख मांडविया ने सफदरगंज अस्पताल में चार स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं के उद्घाटन समारोह में इस पूरी घटना का खुलासा किया.

अस्पताल में दिखी अव्यवस्था

पहचान बदलकर सफदरजंग अस्पताल (Safdarjung Hospital) पहुंचने के बाद मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya) को कई तरह की अव्यस्थाएं देखने को मिली. उन्होंने बताया कि अस्पताल में करीब 75 साल की एक बुजुर्ग महिला को उसके बेटे के लिए स्ट्रेचर की जरूरत थी, लेकिन महिला को स्ट्रेचर दिलाने और स्ट्रेचर ले जाने में सुरक्षा गार्डों ने कोई मदद नहीं की.

ये भी पढ़ें- दुनियाभर में ड्राइविंग के लिए सबसे स्ट्रेसफुल है ये भारतीय शहर, चौथे नंबर पर दिल्ली

घटना पर पीएम मोदी का रिएक्शन

फर्स्टपोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार, पूरे घटना की जानकारी मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya) ने पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को भी दी. इस पर पीएम मोदी ने पूछा कि क्या जिस गार्ड ने डंडा मारा, उसे निलंबित कर दिया? इस पर स्वास्थ्य मंत्री ने नहीं में जवाब दिया. उन्होंने कहा कि वह सिर्फ एक व्यक्ति को नहीं, बल्कि पूरी व्यवस्था को बेहतर बनाना चाहते हैं.

स्वास्थ्य मंत्री ने डॉक्टरों की तारीफ

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya) ने कोरोना काल में डॉक्टरों द्वारा किए गए कार्यों की जमकर तारीफ की और कहा कि सभी डॉक्टरों को टीम वर्क के रूप में काम करना चाहिए. उन्होंने उम्मीद जताई कि यह अस्पताल अपनी छवि बदलने के लिए एक प्रेरणा के रूप में काम करेगा.

लाइव टीवी

Trending news