दिल्ली: बृजपुरी में राहुल गांधी पर भड़की एक महिला, हिंसा के लिए सोनिया के बयान को जिम्मेदार बताया

दिल्ली दंगों के 10 दिन बाद प्रभावित इलाकों का राहुल गांधी ने दौरा किया. 

दिल्ली: बृजपुरी में राहुल गांधी पर भड़की एक महिला, हिंसा के लिए सोनिया के बयान को जिम्मेदार बताया
फोटो- ANI

दिल्ली:  दिल्ली दंगों के 10 दिन बाद प्रभावित इलाकों का राहुल गांधी ने दौरा किया. हिंसाग्रस्त इलाकों में जाकर राहुल गांधी बोले कि हिंसा और नफरत से भारत माता को नुकसान पहुंचा है. राहुल गांधी के इस दौरे का विरोध भी देखने को मिला. कांग्रेस नेताओं के साथ जब राहुल गांधी नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के बृजपुरी इलाके में पहुंचे एक दंगा पीड़ित महिला उन पर भड़क उठी. 

दंगा पीड़ित महिला ने कहा, "इन्होंने ही कहा था आर या पार. इन्होंने ही आग लगाई है. आग लगाकर अब तापने आए हैं." इस महिला ने विरोध इसलिए किया, क्योंकि कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर भड़काने वाले बयान दिये थे, आर-पार की लड़ाई वाली भड़काऊ बातें की थीं. सोनिया गांधी ने 14 दिसंबर 2019 को अपने भाषण में कहा था, "समाज और देश की जिंदगी में कभी-कभी ऐसा वक्त आता है कि उसे इस पार या उस पार का फैसला लेना पड़ता है. आज वही वक्त आ गया है." 

राहुल गांधी ने बिना नाम लिए सरकार और बीजेपी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि दंगों से देश की छवि हुई खराब हो रही है.  इस मौके पर कांग्रेस नेताओं का प्रतिनिधि मंडल भी राहुल के साथ मौजूद हैं. राहुल गांधी कांग्रस नेताओं के साथ नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के बृजपुरी इलाके में पहुंचे. यहां उन्होंने उस स्कूल का दौरा किया, जो हिंसा के दौरान आगजनी का शिकार हुआ था. स्कूल से बाहर आकर राहुल गांधी ने मीडिया से कहा, 'ये स्कूल है. ये हिंदुस्तान का भविष्य है. जिसे नफरत और हिंसा ने जलाया है. इससे किसी का फायदा नहीं हुआ है. 

मस्जिद दौरे को लेकर उठे सवाल
राहुल गांधी कांग्रेस नेताओं के साथ नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के बृजपुरी इलाके में पहुंचे. यहां उन्होंने अरुण मॉर्डन पब्लिक स्कूल का दौरा किया. ये स्कूल हिंसा के दौरान आगजनी का शिकार हुआ था. राहुल गांधी के मस्जिद दौरे को लेकर उठाए जा रहे हैं. राहुल गांधी मस्जिद का हाल जानने पहुंचे लेकिन एक भी मंदिर नहीं गए जबकि सच्चाई ये है कि मस्जिदों के साथ साथ दंगे में मंदिर को भी नुकसान पहुंचाया गया था.  राहुल ने ये बताने की कोशिश की कि उन्हें और कांग्रेस पार्टी को दंगे के पीड़ितों की कितनी चिंता है लेकिन इसके पीछे भी असल में कांग्रेस की सियासत छिपी है, जिसे जनता को समझना होगा. राहुल गांधी इस स्कूल के ठीक बगल वाली मस्जिद भी गए. बृजपुरी इलाके में बनी इस मस्जिद का नाम है फारुकिया मस्जिद जबकि उन्होंने किसी मंदिर का दौरा नहीं किया. 

उत्तर पूर्वी दिल्ली में नागरिकता कानून (CAA) को लेकर फैली हिंसा में अब तक 47 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 200 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं. जाफराबाद से लेकर मौजपुर और इसके आसपास के अन्य इलाके बेहद कड़ी सुरक्षा में हैं. दिल्ली पुलिस हर गली मोहल्ले में जाकर गश्त कर रही है. दिल्ली में भड़की हिंसा अब शांत हो गई है. हिंसा प्रभावित इलाकों में अब राहत कार्य चल रहा है और दोबारा जीवन पटरी पर लौटे इसकी कोशिशें जारी हैं.   

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.