दिल्लीः बेरहम मां ने 25 दिन की बच्ची को कूड़ेदान में फेंका, हुई मौत

जब पुलिस ने इस महिला से पूछा कि उसने ऐसा क्यों कि तो उसने पुलिस को चौंकाने वाला बयान दिया.

दिल्लीः बेरहम मां ने 25 दिन की बच्ची को कूड़ेदान में फेंका, हुई मौत
पूर्वी दिल्ली के विनोद नगर में मां ने नवजात बेटी की हत्या (फोटोः एएनआई)

नई दिल्लीः देश की राजधानी के एक इलाके में बेरहम मां ने अपनी बच्ची को कूड़ेदान में फेंक दिया जिससे बच्ची की मौत हो गई. आरोपी मां को पुलिस गिरफ्तार कर लिया है. मामला पूर्वी दिल्ली के वेस्ट विनोद नगर का है. बताया जा रहा है कि जिस बच्ची को इस मां ने कूड़ेदान में फेंका वह मात्र 25 दिन की थी. खबरों के मुताबिक आरोपी मां ने नवजात को कूड़ेदान में फेंक दिया था जिसके बाद उसकी मौत हो गई. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक जब पुलिस ने इस महिला से पूछा कि उसने ऐसा क्यों किया तो उसने पुलिस को चौंकाने वाला बयान दिया. पुलिस के दिए अपने बयान में महिला ने कहा कि वह अपनी बच्ची के रोने से थक चुकी थी. 

फिलहाल इस मामले में पुलिस की तरफ से आधिकारिक बयान नहीं आया है. ना ही इस महिला ने मीडिया के सामने आकर कुछ कहा है. लेकिन एक मां द्वारा अपनी नवजात बच्ची की हत्या करने की खबर सुनकर हर कोई सन्न है. 

 

संपत्ति विवाद में मां ने 14 साल के बेटे को मारा
इसी साल जनवरी महीने में भी एक मां द्वारा अपने बच्चे की हत्या करने की खबर आई थी. उस वक्त केरल की राजधानी तिरुअनंतपुरम से करीब 71 किलोमीटर दूर कोल्लम में एक मां द्वारा अपने बेटे की हत्या किए जाने की खबर से हर कोई सन्न हो गया था. वहां एक मां ने अपने 14 साल के बेटे को संपत्ति विवाद के चलते हुई बहस के बाद उसे जलाकर मार डाला था. पुलिस ने बेटे की लाश को घर के पीछे केले के पेड़ों के बीच अधजला और क्षत-विक्षत अवस्था में पाया. यह मामला कोल्लम के पास कुंद्रा का था. बेटे की हत्या के बाद मां ने खुद अपने पति के साथ पुलिस स्टेशन जाकर अपने बेटे के लापता होने की शिकायत दर्ज करवाई थी.  

यह भी पढ़ेंः रेप के बाद दरिंदगी से हुई 6 साल की मासूम की मौत, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा

इस नृशंस हत्या की कहानी तब खुलकर सामने आई जब पुलिस ने संदेह के आधार पर जीतू की मां जया से पूछताछ की. इस महिला के हाथों में जलने के घाव थे.

बीमारी से तंग आकर मां ने बच्चों की हत्या की 
 साल 2017 के सितंबर महीने में महाराष्ट्र के ठाणे से एक मां ने अपने बच्चों की बीमारी से तंग आकर उनकी गला घोंटकर हत्या कर दी थी. इसके बाद उसने खुद की भी जान दे दी थी. ऐसा बताया जा रहा था कि महिला ने मरने से पहले सुसाइड नोट भी लिखा था, जिसमें उसने ये वजह भी लिखी कि क्यों उसने अपने ही बच्चों की हत्या की और फिर आत्महत्या करने का कदम उठाया. 

दिल्लीः घर में मिली पति-पत्नी और बेटे की लाश, सुसाइड नोट भी मिला

यह मामला ठाणे जिले के कलवा के खरीगांव इलाके का था. जहां एक महिला ने कथित तौर पर अपने सात वर्षीय जुड़वां बच्चों की गला दबा कर हत्या कर दी थी और उसके बाद कथित तौर पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी. महिला  महिला का पति जब काम से लौटा तो उसने शवों को देखा.