राहुल गांधी पर केसीआर की टिप्पणी से भड़के दिग्विजय सिंह, कहा- 'कृतघ्न'

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने राहुल गांधी पर विवादित टिप्पणी करने के लिए शुक्रवार को तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख के चंद्रशेखर राव पर निशाना साधा.

राहुल गांधी पर केसीआर की टिप्पणी से भड़के दिग्विजय सिंह, कहा- 'कृतघ्न'
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने राहुल गांधी पर विवादित टिप्पणी करने के लिए टीआरएस प्रमुख के चंद्रशेखर राव पर आरोप लगाया कि राव ‘कृतघ्न’ हैं.(फोटो साभार:@digvijaya_28)

नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने राहुल गांधी पर विवादित टिप्पणी करने के लिए शुक्रवार को तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख के चंद्रशेखर राव पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि राव ‘कृतघ्न’ हैं और आने वाले चुनाव में राज्य की जनता उनको सबक सिखाएगी.

 

 

सिंह ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मैं राहुल जी के खिलाफ केसीआर के बयान की कड़ी निंदा करता हूं. यह कैसे कृतघ्न व्यक्ति हैं. तेलंगाना कांग्रेस की देन है और इस व्यक्ति ने कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया. केसीआर, आप शर्म करिए. इतना कृतघ्न होने के लिए राव को तेलंगाना की जनता द्वारा दंडित किया जाना चाहिए.’’ 

तेलंगाना में 'मिलियन मार्च' से पहले हजारों कार्यकर्ता हिरासत में

केसीआर ने राहुल गांधी को कहा था मसखरा 
दरअससल, गत गुरुवार को तेलंगाना विधानसभा को समयपूर्व भंग करने की घोषणा के बाद राव ने राहुल गांधी पर निशाना साधा. राव ने लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गले मिलने का जिक्र किया और कहा, "राहुल गांधी इस देश के सबसे बड़े मसखरे हैं." इस पर पलटवार करते हुए कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि तेलंगाना टीआरएस के प्रमुख ‘आधुनिक युग के मुहम्मद बिन तुगलक’ हैं और ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कठपुतली’ हैं. सुरजेवाला ने यह भी आरोप लगाया था कि राव ने तेलंगाना की जनता के साथ ‘विश्वासघात’ किया है.

टीजेएसी बनाएगी नई पार्टी, सीएम चंद्रशेखर राव की TRS के साथ तेलंगाना के लिए लड़ी थी लड़ाई

उल्लेखनीय है कि मार्च 2014 में आंध्र का विभाजन कर जब नये राज्य तेलंगाना का गठन हुआ था, उस समय केन्द्र में कांग्रेस नीत संप्रग सरकार की थी. उस समय दिग्विजय सिंह कांग्रेस में अविभाजित आंध्र प्रदेश के प्रभारी थे.

(इनपुट भाषा से)