भगोड़े ज़ाकिर नाईक पर सफाई मांगकर फंस गए दिग्विजय सिंह, बीजेपी ने किया पलटवार

दिग्विजय ने पीएम मोदी पर एक और हमला बोला. कहा- मोदी अपने माता-पिता के बर्थ सर्टिफिकेट दिखाएं तो हम भी दिखा देंगे. 

भगोड़े ज़ाकिर नाईक पर सफाई मांगकर फंस गए दिग्विजय सिंह, बीजेपी ने किया पलटवार

नई दिल्ली: देश के मोस्टवॉन्टेड भगोड़े इस्लामिक उपदेशक ज़ाकिर नाइक को लेकर कांग्रेस का प्रेम फिर जाग उठा है. कभी ज़ाकिर को शांतिदूत बताने वाले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने अब ज़ाकिर का एक वीडियो ट्वीट कर प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर सवाल उठाए हैं. वीडियो में ज़ाकिर नाइक ने दावा किया है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले पर समर्थन के बदले सरकार ने उसके खिलाफ सभी केस खत्म करने का ऑफर दिया है. ज़ाकिर के वीडियो के बहाने दिग्विजय ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि आरोपों का खंडन न करने पर ज़ाकिर का आरोप सही माना जाएगा. ऐसे में सवाल ये है कि क्या ये ज़ाकिर नाइक पर कांग्रेस का सेल्फ गोल है और देश का मोस्ट वॉन्टेड भगोड़ा कांग्रेस के लिये मासूम है? 

ज़ाकिर नाइक जिसे पकड़ने के लिए भारत की पुलिस ने एड़ी चोटी का ज़ोर लगाया हुआ है, उस ज़ाकिर को कांग्रेस के हाथ का साथ मिल गया है. ज़ाकिर नाइक का कहना है, "भारतीय अधिकारियों ने मुझसे भारतीय सरकार के एक प्रतिनिधि के साथ व्यक्तिगत मीटिंग के लिए संपर्क किया, उसने मुझसे कहा वो मेरे और भारतीय सरकार के बीच हुई ग़लतफ़हमियों और मिस कम्युनिकेशन को दूर करना चाहते हैं और मुझे भारत आने का सुरक्षित रास्ता देना चाहते हैं." 

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह सेल्फ गोल के लिए फेमस हैं. ऐसा कई बार हुआ है जब कांग्रेस को दिग्विजय सिंह के बोलबचन से शर्मिन्दगी उठानी पड़ी है. दिग्विजय सिंह का कहना है, "जिसे अमित शाह और मोदी जी ने देशद्रोही करार दिया है वो (ज़ाकिर नाइक) अगर ये बयान दे रहा है तो उनका इसका  खंडन करना चाहिए आजतक खंडन क्यों नहीं किया." 

कांग्रेस को शर्मिन्दगी के लिए एक बार फिर तैयार हो जाना चाहिए क्योंकि दिग्विजय का मुंह खुल चुका है. गैरज़िम्मेदार शब्दों का तीर निकल चुका है. इतना ही नहीं, दिग्विजय ने पीएम मोदी पर एक और हमला बोला. कहा- मोदी अपने माता-पिता के बर्थ सर्टिफिकेट दिखाएं तो हम भी दिखा देंगे. 

उधर, BJP प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, "कांग्रेस के ये जवाब देना चाहिए कि आखिर जो देश के खिलाफ़ बोलता है, जो हिंदू- मुस्लिम मे तनाव पैदा करता है उसके साथ कांग्रेस अपने आपको क्यों लामबंद करती है? ये देश जानना चाहता है." 

कांग्रेस जनता के दरबार में मोदी से हारी कश्मीर में हारी. नागरिकता कानून पर हारी. अब कांग्रेस ज़ाकिर नाइक को मोहरा बनाकर फंस चुकी है. JDU नेता के सी त्यागी ने कहा, "ज़ाकिर नाइक एक भगोड़ा है उसकी किसी बात को पेश करना उचित नहीं है और यूं भी दिग्विजय सिंह जी तो इन बातों के लिए पहले से मशहूर हैं.

हैरानी की बात ये है कि देश के लोगों को बांटने वाले बोल बोलने वाला कांग्रेस और कांग्रेस के नेताओं का प्रिय कैसे हो सकता है या फिर कांग्रेस ने तय कर लिया है कि रास्ता सही हो या ग़लत मोदी विरोध के लिए सबकुछ कबूल है.