Zee Rozgar Samachar

DNA Analysis: दुनिया के लिए खतरा बने चीन-पाकिस्तान, बढ़ाया परमाणु हथियारों का जखीरा

इस रिपोर्ट के मुताबिक इस समय पाकिस्तान के पास 160 और चीन के पास 320 परमाणु हथियार हैं. चीन ने पिछले एक साल में 30 नए परमाणु हथियारों का निर्माण किया है.

DNA Analysis: दुनिया के लिए खतरा बने चीन-पाकिस्तान, बढ़ाया परमाणु हथियारों का जखीरा

नई दिल्ली: चीन और पाकिस्तान भारत के लिए ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लिए खतरा बन गए हैं. चीन दुनिया में लाखों लोगों की जान लेने वाले कोरोना वायरस (Coronavirus) का केंद्र है तो पाकिस्तान आतंकवाद का केंद्र है. लेकिन ये दोनों देश अब परमाणु हथियारों की दौड़ में भी बहुत आगे निकल गए हैं.

परमाणु हथियारों पर नजर रखने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था ‘स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट’ (सिपरी) ने अपनी एक रिपोर्ट में इसका जिक्र किया है. 

इस रिपोर्ट के मुताबिक इस समय पाकिस्तान के पास 160 और चीन के पास 320 परमाणु हथियार हैं. चीन ने पिछले एक साल में 30 नए परमाणु हथियारों का निर्माण किया है जबकि भारत के पास कुल 150 परमाणु हथियार हैं. भारत के परमाणु हथियार घटे हैं या बढ़े इसका जिक्र इस रिपोर्ट में नहीं है.

इस रिपोर्ट में चीन को लेकर ये चिंता भी जताई गई है कि वो अपने परमाणु हथियारों का सार्वजनिक तौर पर ज्यादा प्रदर्शन कर रहा है. हालांकि चीन अपने परमाणु हथियारों के विकास के बारे में बहुत कम जानकारी साझा करता है. लेकिन चीन बहुत तेजी से अपने परमाणु हथियारों को आधुनिक बना रहा है. चीन ने जमीन और समुद्र से वार करने मे सक्षम नई परमाणु मिसाइलें बनाई हैं और चीन ने परमाणु हथियार ले जाने वाला एयरक्राफ्ट भी बनाया है.

हालांकि एक अच्छी खबर ये है कि दुनिया में कुल परमाणु हथियारों की संख्या में गिरावट आई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया के 90 प्रतिशत परमाणु हथियार रखने वाले अमेरिका और रूस अपने परमाणु हथियारों को धीरे-धीरे नष्ट कर रहे हैं.

दुनिया के जो देश परमाणु शक्ति से संपन्न हैं उनके पास आज कुल 13 हजार 400 परमाणु हथियार हैं. जबकि पिछले साल परमाणु हथियारों की संख्या 13 हजार 865 थी.

यानी जब दुनिया के देश परमाणु हथियारों को लेकर सकारात्मक दिशा में जा रहे हैं तब चीन और पाकिस्तान दुनिया के लिए खतरा बन गए हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.