ZEE जानकारी: टेलिकॉम कंपनियों के Plans महंगे, जानें- किस कंपनी ने कितना बढ़ाया रेट

बेशक कंपनियां रेट बढ़ाएं, लेकिन सवाल वही है कि क्या रेट बढ़ाने के बाद Call Drop में सुधार आएगा?

ZEE जानकारी: टेलिकॉम कंपनियों के Plans महंगे, जानें- किस कंपनी ने कितना बढ़ाया रेट

मोबाइल फोन रखना अब हमारी आदत बन गई है. ये आदत ठीक वैसी ही है जैसे हम सोते हैं, जागते हैं, या खाते-पीते हैं. हमारे देश में 30 रुपये किलो आटा मिलता है, जबकि 11 रुपये में 1 GB Data मिलता है. लेकिन हो सकता है कि आज आधी रात से ही आपको अपनी आदत बदलनी पड़े क्योंकि आज रात 12 बजे से 2 टेलीकॉम कंपनियां Prepaid Plans के रेट को बढ़ा रहीं हैं. यानी इसका सीधा असर Prepaid के 120 करोड़ से ज्यादा Connections पर पड़ेगा. ध्यान रखें कि यहां हम 120 करोड़ लोगों की नहीं बल्कि Prepaid Connections की बात कर रहे हैं. लेकिन रेट बढ़ने के बाद भी भारत में सिर्फ 18 रुपये में 1 GB Data मिलेगा . जो दुनिया के औसत रेट 600 रुपये प्रति 1 GB रेट से काफी सस्ता है. दुनिया में Zimbabwe (जिम्बाब्वे) में अभी एक जीबी डेटा के लिए सबसे ज्यादा 5 हजार रुपये देने होते हैं.

अब बात करते हैं किस कंपनी ने कितना रेट बढ़ाया है. ये जानने से पहले आपको यह जान लेना जरूरी है कि आखिर इसके पीछे की वजह क्या है ? तो आपको बता दें कि बड़ी वजह है टेलीकॉम कंपनियों पर Spectrum के इस्तेमाल, लाइसेंस फीस, जुर्माना और ब्याज मिलाकर करीब 1.4 लाख करोड़ रुपये की देनदारी. इस देनदारी पर हाल में ही सुप्रीम कोर्ट ने भी भारत सरकार के पक्ष में फैसला दे दिया था. यानी 1.4 लाख करोड़ रुपये इन टेलिकॉम कंपनियों को सरकार को देना ही पड़ेगा.

बेशक कंपनियां रेट बढ़ाएं लेकिन सवाल वही है कि क्या रेट बढ़ाने के बाद Call Drop में सुधार आएगा. क्या अब वाकई में 4G की स्पीड ही मिलेगी. या 4G का स्पीड में अब भी 2G की स्पीड से काम चलाना पड़ेगा.

अब बात करते हैं कि कितना रेट बढ़ा है. पहले Vodafon-Idea की बात करते हैं. इसके करीब 38 करोड़ से ज्यादा ग्राहक हैं. अभी आपको 365 दिन Unlimited Call व Data Plan के लिए 1699 रुपये देने पड़ते थे लेकिन नया रेट लागू होते ही 2399 रुपये देने होंगे. यानी आपको साल भर फ्री Calling व Internet के लिए 700 रुपये अधिक देना पड़ेगा. इसी तरह रोजाना 1.5 GB Data के लिए अब 249 रुपये का रिचार्ज करना पड़ेगा. आज से पहले तक आपको सिर्फ 199 रुपये देने पड़ते थे. यानी अब आपको 50 रुपये ज्यादा देना होगा.

अब Airtel की बात करते हैं. एयरटेल के इस समय 32 करोड़ से ज्यादा ग्राहक हैं. इसके ग्राहकों को 365 दिन Unlimited Call व रोजाना 1.5 GB Data Plan के लिए 1699 रुपये देने पड़ते थे लेकिन अब 2398 रुपये देने होंगे. आपको यह ध्यान भी रखना होगा कि Airtel-Vodafone के अलावा किसी तीसरे नेटवर्क के सिम पर कॉल करते हैं तो हर मिनट के लिए 6 पैसे ज्यादा चार्ज देना होगा.

यानी एक बात तय है कि अब आपको Call और Internet के लिए ज्यादा खर्च करना पड़ेगा. लेकिन ये जानकर आप हैरान होंगे कि भारत में Internet Data Speed पड़ोसी देश पाकिस्तान और श्रीलंका से भी कम है. Data Speed चेक करने वाली कंपनी Ookla (ऊकला) ने Speedtest Global Index Report में इसका जिक्र किया है. दुनिया में मोबाइल इंटरनेट स्पीड के मामले में कुल 145 देशों में भारत 131वें नंबर पर है. दुनिया में सबसे ज्यादा इंटरनेट स्पीड South Korea में है.

यानी हम इंटरनेट स्पीड के मामले में काफी पीछे हैं. लेकिन भारत में 1 GB Data की कीमत दुनिया में सबसे सस्ती है. रेट बढ़ने का बाद भी भारत में 1 GB Data के लिए सिर्फ 18 रुपये खर्च करने पड़ेंगे, जो दुनिया में सबसे सस्ता है. इसी 1 GB Data के लिए अमेरिका में 886 रुपये, साउथ कोरिया में 1083 रुपये और स्विटजरलैंड में 1448 रुपये देने होते हैं. लेकिन सस्ते डेटा और कॉल के साथ हमें Call Drop भी एक तरह से मुफ्त में ही मिलती रहती है.

हमारे देश में अब Internet DATA तो महंगा होने वाला है. लेकिन भारत में Telecom सेवाओं की गुणवत्ता बहुत खराब है.

आप ग्राफ में देख सकते हैं कि वर्ष 2014 में एक GB DATA 269 रुपये में मिलता था..जो 2019 में घटकर सिर्फ 18 रुपये रह गया है. लेकिन सेवाओं की गुणवत्ता में कोई खास सुधार नहीं आया है.

TRAI ... यानी Telecom Regulatory Authority of India के मुताबिक किसी भी देश में 2 प्रतिशत तक Call Drop सामान्य है. लेकिन अभी भारत में औसत Call Drop... 4.73 प्रतिशत है. खराब Quality की सेवाओं के मामले में ही नहीं इंटरनेट स्पीड के मामले में भी हम काफी पीछे हैं. अब टेलीकॉम कंपनियां रेट बढ़ा रहीं हैं.. तो उम्मीद है कि आने वाले समय में इन दोनों समस्याओं से भी राहत मिलेगी.