DNA ANALYSIS: सोशल मीडिया का 'अनलाइक बादशाह'

 मशहूर रैपर बादशाह ने कबूल कर लिया है कि यूट्यूब पर अपने गाने के फेक व्यूज बढ़ाने के लिए उन्होंने एक कंपनी को करीब 74 लाख रुपये दिए थे.

DNA ANALYSIS: सोशल मीडिया का 'अनलाइक बादशाह'

नई दिल्ली: कुछ दिन पहले हमने DNA में आपको सोशल मीडिया पर फेक फॉलोअर्स और व्यूज का घोटाला करने वाले गिरोह के बारे में बताया था. जिसके तहत बड़े-बड़े प्रभावशाली लोगों को पैसों के बदले सोशल मीडिया पर नकली फॉलोअर्स और लाइक्स बेचे गए थे. इनमें से एक हैं मशहूर रैपर बादशाह. जिन्होंने कबूल कर लिया है कि यूट्यूब पर अपने एक गाने के फेक व्यूज बढ़ाने के लिए उन्होंने एक कंपनी को करीब 74 लाख रुपये दिए थे.

इस मामले की जांच कर रही मुंबई पुलिस ने बादशाह से 6 और 7 अगस्त को पूछताछ की थी. शुरुआती पूछताछ में बादशाह ने आरोपों को गलत बताया था.लेकिन मुंबई पुलिस के मुताबिक अब बादशाह ने पैसे देकर व्यूज बढ़ाने की बात मान ली है. मुंबई पुलिस का कहना है कि बादशाह ने अपने गाने...पागल है..के लिए एक कंपनी को 7 करोड़ 20 लाख फेक व्यूज बढ़ाने के लिए करीब 74 लाख रुपये का भुगतान किया था और वो भी 18 प्रतिशत GST के साथ जिसकी रसीद भी Zee News के पास मौजूद है. ये रसीद, आदित्य प्रतीक सिंह के नाम से बनी है जो रैपर बादशाह का असली नाम है.

जिस कंपनी से बादशाह ने फर्जी लाइक्स की डील की. उस कंपनी का नाम है- Qyuki.com (क्यू की डॉट कॉम). मुंबई पुलिस ने इस कंपनी के अधिकारियों को भी 12 अगस्त को पूछताछ के लिए नोटिस भेजा है.

24 घंटे में सबसे ज्यादा बार देखा जाने वाला गाना
अब सवाल ये है कि बादशाह ने ऐसा क्यों किया तो इसका जवाब भी हम आपको देते हैं. असल में कोई भी कंपनी अपने ब्रांड्स को उन सेलिब्रिटीज और Influencers से प्रमोट कराना चाहती हैं जिनके फॉलोअर्स की संख्या ज्यादा होती है. ऐसे में ये विज्ञापन या कंटेंट करोड़ों लोगों तक पहुंचता है और इसके बदले में मिलने वाली मोटी फीस के लालच में ही ये सेलिब्रिटी फेक फॉलोअर्स खरीदते हैं. बादशाह ने भी यही किया.

मुंबई पुलिस को बादशाह ने बताया है कि उन्होंने फेक व्यूज इसलिए खरीदे ताकि उनका गाना..पागल है..यूट्यूब पर 24 घंटे में सबसे ज्यादा बार देखा जाने वाला गाना बन जाए. और ऐसा ही हुआ. 11 जुलाई को यूट्यूब पर रिलीज हुए उनके इस गाने को अगले 24 घंटे में साढ़े सात करोड़ व्यूज मिले थे. इससे पहले ये रिकॉर्ड दक्षिण कोरिया के म्यूजिक बैंड BTS के गाने Boy With Love के नाम था. जो अप्रैल 2019 में रिलीज हुआ था और शुरुआती 24 घंटे में यूट्यूब पर 7 करोड़ 46 लाख बार देखा गया था. 

बादशाह पर शक कैसे हुआ
अब हम आपको बताते हैं कि मुंबई पुलिस को आखिर बादशाह पर शक कैसे हुआ ? दरअसल, 11 जुलाई को बॉलीवुड सिंगर भूमि त्रिवेदी ने मुंबई पुलिस को शिकायत दी थी कि उनके नाम से कोई व्यक्ति इंस्टाग्राम पर फर्जी अकाउंट चला रहा था. जिसका इस्तेमाल उस व्यक्ति ने अपने फॉलोअर्स बढ़ाने में किया था. इस मामले की जांच में मुंबई पुलिस ने अभिषेक दावडे नाम के शख्स को गिरफ्तार किया. जो Followers Kart नाम की एक कंपनी के लिए काम करता था.

ये कंपनी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर अपने ग्राहकों को नकली लाइक्स, कॉमेंट्स, व्यूज, रीट्वीट, सब्सक्राइबर्स और फॉलोअर्स उपलब्ध कराती थी और इसके बदले में फीस वसूली जाती थी. मुंबई पुलिस ने अपनी जांच में 170 से ज्यादा बॉलीवुड सेलिब्रिटीज और Sports Personalities को संदिग्ध पाया था जो पैसे देकर अपने सोशल मीडिया के फॉलोअर्स बढ़ाते थे. जिनमें रैपर बादशाह का नाम भी शामिल था.

मुंबई पुलिस को जांच के दौरान पता चला कि बादशाह के हर गाने को कई करोड़ व्यूज तो मिले हैं लेकिन हैरानी की बात ये है कि गानों के वीडियो पर कमेंट, सिर्फ कुछ सौ की ही संख्या में हुए हैं. इसी से संदेह हुआ कि करोड़ों व्यूज वाले वीडियो पर कैसे इतने कम कमेंट आए. इसी शक के आधार पर मुंबई क्राइम ब्रांच ने बादशाह के सोशल मीडिया अकाउंट्स की जांच की, जिससे ये पता चला कि गाने के फेक व्यूज खरीदे गए थे.

नकली फॉलोअर्स खरीदने के आरोप
हालांकि सार्वजनिक तौर पर बादशाह अभी भी खुद पर लग रहे आरोपों से इनकार कर रहे हैं. उन्होंने एक बयान भी जारी किया है. जिसमें उन्होंने खुद पर लग रहे सभी आरोपों को झूठा बताया है और ये कहा है कि वो मुंबई पुलिस की जांच में पूरा सहयोग कर रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे.

वैसे मुंबई पुलिस के मुताबिक बादशाह अकेले नहीं हैं जिन पर नकली व्यूज या फॉलोअर्स खरीदने के आरोप लगे हैं. इस समय पुलिस के रडार पर 200 से ज्यादा सेलिब्रिटीज हैं, इनमें बॉलीवुड स्टार्स से लेकर, कोरियोग्राफर्स, मशहूर खिलाड़ी, बॉडी बिल्डर्स और दूसरे Social Media Influencers शामिल हैं.

ये भी देखें-